सरकारी महिला कर्मचारी को कर रहे थे ब्लैकमेल, महिला ने ऐसे सिखाया सबक

punjabkesari.in Tuesday, Jan 07, 2020 - 01:18 PM (IST)

जींद (जसमेर): जींद के डी.सी. कार्यालय में तैनात एक महिला सरकारी कर्मचारी को उसकी वीडियो वायरल कर ब्लैकमेल करने का एक बड़ा मामला उजागर हुआ है। इस सिलसिले में जींद के मंजू होटल के पीछे के सैनी मोहल्ला निवासी रिंकू, सुनील कपूर के खिलाफ सिविल लाइन पुलिस थाना में लिखित शिकायत महिला कर्मचारी के भाई विजय कुमार ने दर्ज करवाई है। विजय सैनी की इस शिकायत की पुलिस ने गहनता से जांच शुरू कर दी है। जींद के डी.सी. कार्यालय की नकल ब्रांच में तैनात महिला कर्मचारी पूनम सैनी की एक वीडियो बनाकर वायरल की गई। महिला कर्मचारी पूनम सैनी के भाई विजय कुमार ने सिविल लाइन थाना पुलिस को दी गई शिकायत में कहा कि यह वीडियो सैनी मोहल्ला के रिंकू उर्फ भारत भूषण शर्मा ने बनाई और वीडियो को सोशल मीडिया अकाऊंट पर वायरल कर दिया। महिला कर्मचारी पूनम सैनी के भाई विजय कुमार के अनुसार उसकी बहन की वीडियो वायरल करने वालों ने उनसे पैसे मांगने शुरू किए। रिंकू ने इस सिलसिले में उसकी सुनील कपूर से उसके घर पर मुलाकात करवाई। 

इसमें रिंकू और सुनील कपूर के साथ 5 जनवरी को 5 लाख रुपए देने का दिन निश्चित किया गया। वीडियो को इसके बाद सोशल मीडिया से डीलिट कर दिया गया। 5 जनवरी को पैसे का इंतजाम नहीं होने पर उसकी बहन पूनम सदमे के कारण अस्पताल में दाखिल करवानी पड़ी। पैसे नहीं दिए जाने पर वीडियो को दोबारा वायरल कर दिया गया। शिकायत में विजय कुमार ने कहा कि वीडियो दोबारा वायरल होने के बारे में जब उसने रिंकू और सुनील कपूर से बात की तो उसे जींद के पुराने बस स्टैंड पर बुलाया गया। दोनों ने उससे कहा कि पैसे नहीं दोगे तो ऐसे ही वीडियो वायरल होगी। इस पर उसने दोनों से कुछ समय मांगा और इस दौरान रिंकू का उसके पास दोबारा फोन आया। फोन पर उसे मंजू होटल बुलाया गया। शिकायत में विजय कुमार ने कहा कि वह अपने भाई मनोज के साथ मंजू होटल के पास पहुंचे तो रिंकू ने पैसे का इंतजाम होने बारे बात की। इस पर उसने रिंकू को सोमवार सुबह अपनी बहन पूनम के सैक्टर-7 स्थित आवास पर आने के लिए कहा। सोमवार सुबह रिंकू उसकी बहन पूनम के घर पैसे लेने के लिए पहुंच गया। रिंकू को 5 लाख रुपए दे दिए गए और इसकी वीडियो बना ली गई।

अपनी वीडियो बनने की भनक पाकर रिंकू मौके पर पैसे छोड़कर भागने लगा। उसे पकड़कर इसकी सूचना पुलिस को दी गई। विजय कुमार के अनुसार उसकी बहन की सोशल मीडिया पर वायरल की गई वीडियो को हटाने के लिए रिंकू ने पहले 2 लाख रुपए की मांग की गई। बाद में उनसे 5 लाख, फिर साढ़े 7 लाख और अंत में 11 लाख रुपए की मांग की गई। रविवार रात रिंकू पंडित ने उसे शहर के पुराने बस अड्डे के पंडित ढाबे पर बुलाया और वायरल वीडियो सोशल मीडिया से हटाने के लिए 11 लाख रुपए की मांग की। रात ब्लैकमेल करने वालों से यह बात तय की गई कि सोमवार सुबह पूनम सैनी के सैक्टर-7 स्थित आवास पर आकर ब्लैकमेल की राशि ले ली जाए। सतपाल के अनुसार सोमवार सुबह लगभग 7 बजे रिंकू उर्फ भारत भूषण शर्मा एक अन्य व्यक्ति के साथ उनके सैक्टर-7 स्थित आवास पर पहुंचे। रिंकू उर्फ भारत भूषण शर्मा को घर में बिठाकर उसके सामने मेज पर 5 लाख रुपए की नकदी रखकर पुलिस को सूचना दी गई। इस मामले में सीधे एस.एस.पी. से संपर्क साधा गया और ब्लैकमेलिंग के इस पूरे मामले की जानकारी एस.एस.पी. को दी गई। एस.एस.पी. ने तुरंत मौके पर सिविल लाइन थाना पुलिस को भेजा।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static