यमुना नदी की प्राकृतिक धारा को अवरुद्ध करने पर एजेंसी के संचालक के खिलाफ मामला दर्ज

punjabkesari.in Sunday, Feb 21, 2021 - 03:07 PM (IST)

यमुनानगर(सुरेंद्र मेहता): यमुनानगर के - जठलाना गुमथला क्षेत्र में लगातार नियमों के विरुद्ध हो रही खनन की शिकायत मिलने के बाद प्रशासन भी हरकत में आता दिखाई दे रहा है। जहां एक तरफ  सिंचाई विभाग के एसडीओ की शिकायत पर थाना  जठलाना पुलिस ने यमुना नदी की प्राकृतिक धारा को अवरुद्ध करने पर एजेंसी के संचालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया तो वही मंगलवार को एसडीओ अपनी टीम के साथ गुमथला घाट पर पहुंच गए । सिंचाई विभाग के एसडीओ  सत्येंद्र कुमार ने खनन एजेंसी बी 16 गुमथला के संचालक जोगेंद्र सिंह के खिलाफ पुलिस को शिकायत देकर मामला दर्ज करवाया है  । जिसमें कहा गया कि एजेंसी संचालक नियमों के विरुद्ध प्रकृतिक धारा को अवरुद्ध कर रहा है  जबकि कई बार खनन एजेंसियों को इस बारे निर्देश जारी किए जा चुके हैं ।

खनन एजेंसियों ने युमना के किनारों को भी नुकसान पहुंचना शुरू कर दिया है । प्राकृतिक धारा को खनन एजेंसी द्वारा अवरुद्ध करने की कोशिश की जा रही है इसके अलावा यमुना नदी के किनारों पर बने स्टड को भी नुकसान पहुंचाया जा रहा है ।  गुमथला बी 16  के किनारों के पास खनन किया जा रहा है जिससे किनारे खस्ता हालत हो चुके हैं जो आने वाले समय में ना केवल किसानों के लिए बल्कि आबादी क्षेत्र को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं ,जिससे यमुना नदी का पानी गांव में घुसने का डर बना रहता है ।

वहीं पर जब इस बारे सिंचाई विभाग के एसडीओ से बात की तो उन्होंने बताया कि वह गुमथला घाट b16 एजेंसी की ओर चेकिंग के लिए गए थे । जिस पर उन्होंने वहां जाकर देखा की यमुना की जलधारा को बाधित व प्रभावित करके खनन माफिया नियम के विरुद्ध जाकर खनन करता पाया गया । ऐसे मामले में सरकारी ठेका लेने वाले ठेकेदार को शामिल करके उन्होंने जठलाना  पुलिस में शिकायत दी  । वंही गुमथला b16 खनन एजेंसी के खिलाफ जलधारा को बाधित करने व अवैध माइनिंग करने के आरोप में केस दर्ज किया गया ।जठलाना पुलिस थाना प्रभारी धर्मपाल ने बताया कि उनको सिंचाई विभाग के एसडीओ  सत्येंद्र द्वारा एक शिकायत दर्ज कराई गई जोकि गुमथला b16 खनन एजेंसी के खिलाफ जलधारा को बाधित करने व अवैध माइनिंग के आरोप में कराई गई है जिसको लेकर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है और जल्द ही इस बारे में जो भी जांच सामने आएगी उस पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी ।

यमुना की प्राकृतिक धारा को खनन एजेंसी द्वारा अवरुद्ध करने की कोशिश की जा रही है इसके अलावा यमुना नदी के किनारों पर बने स्टड को भी नुकसान पहुंचाया जा रहा है । ऐसे मामले पहले भी प्रकाश में आ चुके हैं, लेकिन ठोस कार्रवाई नहीं हुई जिसके चलते माइनिंग माफिया के हौसले बुलंद हैं।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static