मालिक पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज, मृतका के साथ दुराचार कर ब्लैकमेल कर रहा था आरोपी

1/2/2021 3:45:15 PM

रेवाड़ी : कोसली गांव की सुमेर कॉलोनी के एक व्यक्ति ने चरखी दादरी के धिकाड़ा रोड़ निवासी एक युवक पर उसकी बेटी का शोषण करने, ब्लैकमेल करने व आत्महत्या के लिए विवश करने का केस दर्ज कराया है। सुसाइड नोट के आधार पर अढ़ाई साल बाद यह केस उस समय दर्ज हुआ, जब इसकी शिकायत डी.जी.पी. हरियाणा को की गई। 

कोसली गांव के रामनिवास ने कहा कि उसकी बेटी चरखी दादरी के नितिन के मकान में किराए पर रहती थी। जब उसने अपना मकान बना लिया तो वह नितिन के मकान को छोड़कर  अपने मकान में चली गई, लेकिन नितिन उसके साथ छेड़खानी करता था। उसे बार-बार समझाने पर भी वह बाज नहीं आया। उसने उसकी बेटी का डरा-धमका कर शारीरिक शोषण भी किया। वह जब ब्लैकमेल करने लगा तो 19 जुलाई 2018 को उसकी बेटी ने अपने घर पर सुसाइड नोट छोड़कर आत्महत्या कर ली। दो साल बाद बेची के सामान की जांच में उन्हें एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें उसने नितिन द्वारा की गई हरकतों का उल्लेख किया है। पिता ने कहा कि नितिन के उत्पीड़न के कारण ही उसकी बेटी खुदकुशी के लिए विवश हुई। जब चऱखी दादरी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो  डी.जी.पी. ने अब रेवाड़ी पुलिस को मुकद्दमा दर्ज करने के निर्देश दिए है। पुलिस ने नितिन के खिलाफ जीरो एफ.आई.आर. दर्ज कर चरखी दादरी पुलिस को भेजी है।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Manisha rana

Related News

Recommended News

static