बच्चों को नहीं मिल रही मीड डे मील की सुविधा, घरों से खाना लाने को मजबूर छात्र

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 03:20 PM (IST)

अंबाला(अमन): कोविड काल के चलते पिछले 2 सालों से हरियाणा के सरकारी स्कूलों में बच्चों को दिया जाने वाला मिड डे मील बंद पड़ा है, 2 सालों से स्कूल में खाना बनाने की बजाए बच्चों को सुखा राशन ही वितरित किया गया।

लेकिन अब कोरोना से राहत मिलने के बाद अंबाला के कई स्कूलों में मिड डे मील बनना शुरू हुआ है और ना ही बच्चों को सुखा राशन मिल पा रहा है। बच्चों को अपने घरों से ही खाना लाकर खाना पड़ रहा है। वहीं स्कूलों में खाना बनाने का सामान पड़ा धूल फांक रहा है। यहां तक खाना बनाने वाली वर्करों से साफ सफाई के कार्य लिए जा रहे है।

स्कूलों के मिड डे मील इंचार्जों का कहना है कि विभाग के निर्देशों के चलते खाना बनाना बंद है। बच्चों को सुखा राशन बांटा जा रहा है मार्च महीने के बाद का सुखा राशन अभी तक स्कूलों में नहीं पहुंचा है।

वहीं जब इस बारे में शिक्षा अधिकारी से बात की तो बताया कि कोविड के दौरान बच्चों को घर पर राशन दिया गया था। स्कूलों में अप्रैल तक का सुखा राशन बांट दिया गया है। कई स्कूलों में अभी राशन नहीं पहुंचा है। जल्द ही स्कूलों में मिड डे मील खाना बनाना शुरू कर दिया जाएगा। विभाग के इसके लिए नया पोर्टल बनाया है। जिसके माध्यम से सीधा पैसा वेंडर को भुगतान किया जाएगा।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static