CM मनोहर लाल ने खिलाड़ियों को किया सम्मानित, बोले- ''पदक लाओ पदक बढ़ाओ''

punjabkesari.in Tuesday, Aug 16, 2022 - 08:52 PM (IST)

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के खिलाड़ियों के लिए 'पदक लाओ पदक बढ़ाओ' का नारा दिया। उन्होंने कहा कि इसके लिए पदक विजेता खिलाड़ी को अपने जैसे 5 से 10 खिलाड़ी तैयार करने होंगे। यह तब संभव हो सकता है, जब खेल को करियर के रूप में लिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत राष्ट्रमंडल खेलों की पदक तालिका में इस बार चौथे स्थान पर आया है। हमारा लक्ष्य इस पदक तालिका में पहले स्थान पर आना है और यह लक्ष्य हरियाणा के खिलाड़ी जरूर हासिल कर सकते हैं। उन्होंने प्रदेश के खिलाड़ियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए पांच प्रण को आत्मसात करने का आह्वान भी किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा देश की खेलों की राजधानी है, जिससे बाकि प्रदेश प्रेरणा प्राप्त कर रहे हैं।

 

PunjabKesari

 

कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को किया सम्मानित

 

मुख्यमंत्री मंगलवार को गुरुग्राम में राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं एवं इसमें भाग लेने वाले खिलाड़ियों के सम्मान में आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों को नकद इनाम और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक विजेता को 1 करोड़ 50 लाख रुपये, रजत पदक विजेता को 75 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेता को 50 लाख रुपये के नकद पुरस्कार दिए गए। वहीं चौथे स्थान पर आने वाले को 15 लाख रुपये की राशि दी गई। इसके साथ-साथ राष्ट्रमंडल खेलों में शामिल होने वाले खिलाड़ियों को साढ़े 7 लाख रुपये की राशि दी गई है। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल-2022 में हरियाणा के भारतीय महिला हॉकी टीम में शामिल खिलाड़ियों सहित कुल 29 खिलाड़ियों ने पदक जीते हैं। इन्हें प्रदेश की खेल नीति के अनुसार कुल 25 करोड़ 80 लाख रुपये की नकद इनाम राशि दी गई। साथ ही खिलाड़ियों को नौकरी का नियुक्ति पत्र भी दिया गया।

 

PunjabKesari

 

खिलाड़ियों की उपलब्धियों से समूचे प्रदेश में उत्सव जैसा वातावरण

 

इस अवसर पर मनोहर लाल ने कहा कि पूरे देश में हरियाणा के खिलाड़ियों की चर्चा हो रही है। साथ ही सरकार द्वारा स्कूल के स्तर से लेकर ओलंपिक की तैयारियों तक दिये जा रहे प्रोत्साहन और सुविधाओं की भी सराहना हो रही है। खिलाड़ियों की उपलब्धियों से समूचे प्रदेश में उत्सव जैसा वातावरण है। खिलाड़ियों ने अपने खेल प्रदर्शन से हरियाणा प्रदेश का ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। राष्ट्रमण्डल खेलों में पदक जीतना एक कीर्तिमान तो है ही, इन विश्वस्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेना ही अपने आप में एक महान उपलब्धि है। इस बार के राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेने वाले देश के 215 खिलाड़ियों में से 42 युवा हरियाणा के हैं। हमारे खिलाड़ियों ने देश के 61 में से 20 पदक जीते हैं। इनमें से 17 पदक व्यक्तिगत स्पर्धा में और 3 पदक टीम इवेंट में हैं। उन्होंने कहा कि खेलों में हमारी बेटियां सबसे अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं।

 

PunjabKesari

 

खेलों से हरियाणा के युवाओं के लिए एक नई राह खुली

 

मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रतिभाओं को तराशने के लिए अनेक सुविधाएं और प्रोत्साहन दिए हैं। इससे राज्य में एक नई खेल संस्कृति का जन्म हुआ। खेलों से हरियाणा के युवाओं के लिए एक नई राह खुली है, जिससे हर खेल में खिलाड़ियों का भविष्य सुनहरा दिख रहा है। प्रदेश सरकार ने खिलाड़ियों के लिए सुरक्षित रोजगार सुनिश्चित करने हेतु 'हरियाणा प्रतिभाशाली खिलाड़ी नियम-2018' बनाए हैं। उनके लिए खेल विभाग में 550 नए पद सृजित किए हैं। इसके अलावा, 156 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी गई है। खिलाड़ियों के लिए क्लास वन से क्लास फोर तक के पदों की सीधी भर्ती में आरक्षण का प्रावधान किया गया है। 

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static