रोहतक में आयोजित गुरु सुदर्शन जन्म शताब्दी वर्ष महोत्सव कार्यक्रम में पहुंचे सीएम मनोहर लाल

punjabkesari.in Sunday, Sep 25, 2022 - 10:46 PM (IST)

चंडीगढ़(चन्द्रशेखर धरणी): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि अप्रैल 2023 तक गुरु सुदर्शन जी महाराज का जन्म शताब्दी वर्ष मनाया जा रहा है। हरियाणा सरकार संत महापुरुषों के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए संत महापुरुष विचार प्रसार योजना चला रही है। इस योजना के अंतर्गत गुरु सुदर्शन जी महाराज की याद में उनके जन्म शताब्दी वर्ष में सरकार द्वारा एक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री ने रोहतक में आयोजित गुरु सुदर्शन जन्म शताब्दी वर्ष महोत्सव में की।

कार्यक्रम में जन समर्थन द्वारा उठाई गई मांग को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने रोहतक में माता दरवाजा चौक से बाबरा चौक तक के मार्ग का नाम गुरु सुदर्शन जी महाराज के नाम पर रखे जाने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि गुरु सुदर्शन जी महाराज ने समाज को सहीं दिशा दिखाने का काम किया था। उनके विचारों को शैक्षणिक पाठ्यक्रम में डालने पर भी विचार किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज गुरु सुदर्शन जी महाराज की शिक्षा पर विचार करने का समय है। उन्होंने इस कार्यक्रम में पहुंचे संतजनों का आभार भी व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि संतों की वाणी शासन करने वाले व्यक्ति का मार्गदर्शन करती है। आज उन्हीं संतों की वाणी, उनके विचारों, संस्कृति को याद करने का समय है। उन्होंने कहा कि संतों के विचारों का ज्यादा से ज्यादा प्रसार हो, इसके लिए सरकार निरंतर कार्यक्रम आयोजित कर रही है। इस कड़ी में गुरुनानक देव जी का प्रकाश पर्व, गुरु गोबिंद सिंह जी का प्रकाश पर्व, गुरु तेग बहादुर जी का प्रकाश पर्व मनाया गया। इसके अतिरिक्त महर्षि वाल्मीकि जयंती, संत कबीर जयंती, गुरु रविदास जयंती पर भी सरकार द्वारा कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने समाज को सुखी बनाने और असहाय की मदद करने का संदेश दिया। उन्होंने हमेशा पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति की मदद और अंत्योदय के सिद्धांत को आगे बढ़ाया। हरियाणा सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के मार्ग पर चल रही है।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static