कांग्रेस एक पार्टी नहीं बल्कि 1 पार्टी में 10-12 पार्टियां हैं: सुमित्रा चौहान

5/9/2021 10:25:41 AM

चंडीगढ़ (धरणी) : हरियाणा विधानसभा 2019 के चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस महिला प्रदेश अध्यक्ष सुमित्रा चौहान ने कांग्रेस का त्याग कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया था। उन्हें अब भाजपा ने भी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष के पद से नवाजा है। यह दलबदल करने वाले नेताओं में पहला नाम है जिन्हें भाजपा ने सरकार या संगठन में बड़े पद पर नवाजा गया हो। आज पंजाब केसरी ने उनसे विशेष मुलाकात की और जाना कि उनकी आगामी रणनीति क्या रहेगी और कांग्रेस व भाजपा में उन्हें क्या क्या फर्क नजर आया। संगठन और सरकार दोनों को एक साथ लेकर चलने के लिए वह किस प्रकार की कार्य शैली को अपनाएंगी। इस मौके पर उन्होंने जल्द ही महिलाओं का एक टास्क फोर्स गठित करने मैं की बात कही जो कि कोरोना इस आपदा के समय में जनता को रिलीफ दिलवानेे की कोशिश करेंगी। बातचीत के कुछ अंश आपके सामने प्रस्तुत हैं:-

प्रश्न : कोरोना कॉल में भारी चुनौतियों के वक्त महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष के रूप में आपकी नियुक्ति को किस रूप में देखती हैं ?
उत्तर : 
निश्चित तौर पर जिस प्रकार से माननीय प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने मुझ पर भरोसा करके यह जिम्मेदारी सौंपी है। मैं पूर्णतय कोशिश करूंगी कि सच्ची लगन के साथ उनके भरोसे को कई गुना करके लौटाऊं। अपनी बहनों से अनुरोध करूंगी कि कोरोना कॉल में जितना भी प्रयास अपने परिवार, अपनी गली, अपने मोहल्ले, अपने समाज के लिए कर सकें वह करें। सभी को जागरूक करें। यह संकट की घड़ी है। इस कठिनाइयों के दौर में मैं राजनीतिक बातें कम करना चाहूंगी। जो आपदा हम पर टूटी है। प्रार्थना करूंगी कि सभी का स्वास्थ्य ठीक रहे।

प्रश्न : दलबदल करने वालों में आप पहली ऐसी नेता हैं जिस पर भारतीय जनता पार्टी ने भरोसा जताया है?
उत्तर : 
मैं हृदय की गहराइयों से तमाम नेतृत्व का आभार व्यक्त करती हूं। मुझ पर जो भरोसा किया है मैं उस पर खरा उतरने की कोशिश करूंगी। मैं नतमस्तक होकर उनका धन्यवाद करती हूं।

प्रश्न : आप कांग्रेस में लंबा अरसा रही और अब करीब पौने दो साल भारतीय जनता पार्टी में हो गए।दोनों में क्या फर्क नजर आया ?
उत्तर : 
मै एक लंबे अरसे तक कांग्रेस में रही। कांग्रेस एक परिवार की पार्टी है। परिवारवाद उस पार्टी पर हावी है। मुझे करीब पौने 2 वर्ष भारतीय जनता पार्टी में आए हुए हो गए। यह भारत के लोगों की सच्ची पार्टी है। यहां सिर्फ संगठन है। सुमित्रा चौहान जैसी एक अंतिम पंक्ति में बैठने वाली कार्यकर्ता को इस पद से नवाजा गया। इसी से ही इस पार्टी की कार्यशैली का पता चलता है। यह केवल भाजपा में ही संभव हो सकता है।

प्रश्न : आप 20-25 साल तक कांग्रेस में प्रमुख पदों पर रही। आज कांग्रेस पर परिवारवाद का आरोप लगाएं। यह कितना वाजिब है ?
उत्तर : 
मैंने पहले भी कहा था कि धारा 370 और ट्रिपल तलाक जब मोदी जी ने यह दोनों बड़े फैसले लिए। मैं उसे देखकर भारतीय जनता पार्टी में आई थी और कांग्रेस में रहकर भी मैंने इन दोनों बातों का विरोध किया था। जब कांग्रेस पार्टी धीरे-धीरे गिरना शुरू हुई बहुत देर तक संभालने की कोशिश की। मैंने पहले भी आपको कहा था कि कांग्रेस छोड़ने वालों की एक लंबी कतार खड़ी है। जी 23 किसी से छुपी नहीं है। कांग्रेस निरंतर गिरती जा रही है और आने वाले समय में खत्म हो जाएगी।

प्रश्न : जिस कांग्रेस को आप कल तक मां बताती थी। आखिर वह आज इतनी बुरी कैसे हुई ?
उत्तर : 
जो पार्टी लंबे समय तक देश में राज में रही निश्चित तौर पर कई अच्छे फैसले किए होंगे। मैं कांग्रेस में सरकार और संगठन दोनों में रही। अगर राष्ट्रीय लेवल की बात करें तो सिंधिया जी को क्यों आना पड़ा। क्यों बहुत से नेताओं ने कांग्रेस छोड़ी। आज विरोध के सुर जिस तरीके से पूरे देश में उठे हुए हैं। कांग्रेस का और बुरा वक्त आने वाला है।

प्रश्न : हरियाणा में किस पर आप इशारा कर रही है। इशारों की जगह खुल कर बात करें ?
उत्तर : 
मैं स्पष्ट तौर पर कहना चाहती हूं कि कांग्रेस एक पार्टी नहीं बल्कि एक पार्टी में 10-12 पार्टियां हैं।चाहे उसमें भूपेंद्र सिंह हुड्डा की पार्टी हो, चाहे कुमारी शैलजा की हो, चाहे कुमारी शैलजा की हो, चाहे कैप्टन अजय यादव की हो या कुलदीप बिश्नोई की। बहुत सारे लोग अपनी अलग-अलग पार्टियां बनाकर राजनीति कर रहे हैं।

प्रश्न : भारतीय जनता पार्टी हरियाणा महिला मोर्चा की अध्यक्ष के रूप में कॉविड के खिलाफ किस प्रकार का मिशन आप चलाएंगी ?
उत्तर : 
आज कोरोना से निपटना बड़ी चुनौती है। अपने परिवार को बचाने की बड़ी लड़ाई है। हमने अपनी बहने जो प्रदेश की पदाधिकारी हैं, जो जिलाध्यक्ष हैं, सभी ने एक बैठक की है। जिसमें हमने रणनीति बनाई है। हम गली मोहल्लों में जागरूक करने का एक अभियान चलाएंगे। चाहे सैनिटाइजेशन की बात हो, मास्क की बात हो, डॉक्टर्स की बात हो, वेंटीलेटर्स की बात हो, हम वरिष्ठ नेताओं से राय करेंगे। जिस प्रकार से आधी आबादी अपने परिवार को सुरक्षित रखती है। उसी प्रकार से पूरे प्रांत को बचाने के लिए हम पूरा प्रयास करेंगे।

प्रश्न : आक्सीजन, बैड इंजेक्शन मिल नहीं रहे। महिला संगठन सरकार से किस प्रकार की मांग-किस प्रकार की अपील करता है ?
उत्तर : 
यह किसी को नहीं पता था कि इतना भयानक रूप में कोरोना दूसरी स्ट्रेन के साथ आएगा। इससे सभी लोग हैरान हैं। लेकिन सरकार ऑक्सीजन को लेकर आए दिन फैसले ले रही है। सरकार अच्छे से अच्छे प्रयास कर रही है।

प्रश्न : आपका महिला संगठन सरकार के साथ कंधे-से-कंधा मिलाकर किस प्रकार से चलेगा ?
उत्तर : 
प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी की नीतियों से बहुत ज्यादा प्रभावित हूं। माननीय मोदी जी ने देश के लिए उत्तम फैसले लिए और प्रदेश में मुख्यमंत्री जी ने पारदर्शिता और साफ छवि के साथ गरीबों के बच्चों को नौकरियां दी। बहुत सारे अच्छे काम किए। हर आदमी आज स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें।उसके लिए मनोहर लाल जी बहुत प्रयास कर रहे हैं। हरियाणा भाजपा महिला मोर्चा कंधे-से-कंधा मिलाकर ही नहीं उनके मुख से एक-एक जो भी बात निकलती है पूरा करने के लिए गली-गली निकलेंगे।

प्रश्न : हाल ही में हो रही कालाबाजारी को रोकने के लिए क्या आप कोई महिलाओं की टास्क फोर्स गठित करेंगी। जो कालाबाजारी को रोकने में सरकार की सहायक बने ?
उत्तर : 
निश्चित तौर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री की छवि पारदर्शिता का दूसरा नाम है। वह पूरे हिंदुस्तान में एक उदाहरण है। उस पारदर्शिता को आगे बढ़ाने के लिए एक टीम का गठन किया जाएगा। कहीं भी उन्हें गड़बड़ी लगती है तो तुरंत सरकार को सूचित किया जाएगा। मुझे भरोसा है कि सरकार ने काफी शिकंजा कसा भी है। कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है।महिलाएं पूरी तरह से सशक्त होकर काम करेंगी। मुख्यमंत्री की आवाज बनकर इस कोरोना से लड़ने के लिए मिलकर कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Recommended News

static