बहू ने ससुर को गोली मारकर उतारा मौत के घाट, सास बोली- प्रॉपर्टी के लिए बना रही थी दबाव

punjabkesari.in Saturday, Jan 22, 2022 - 01:32 PM (IST)

फरीदाबाद : बल्लभगढ़ की न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में एक 55 वर्षीय बुर्जुग की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान भरत सिंह भाटी के रूप में हुई है। हत्या का शक मृतक की पुत्र वधु और उसके प्रेमी पर जताया जा रहा है। फिलहाल हत्या के बाद देर रात से ही मृतक की पुत्र वधु घर से फरार है। सास ने बड़ी बहू गीता पर प्रॉपर्टी के लिए हत्या करने का आरोप लगाया है। बल्लभगढ़ सिटी थाना पुलिस और डीएलएफ क्राइम ब्रांच हत्यारों की तलाश में जुट गई है। पुलिस ने मृतक का शव पोस्टमार्टम के लिए बीके अस्पताल में रखवाया है और हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

परिजनों ने बताया कि पिछले 40 सालों से भरत सिंह भाटी परिवार के साथ रह रहे थे और बुक वायरिंग का काम करते थे। उनके दो बेटे हैं, छोटे बेटे सूरज की पिछले साल 20 जनवरी को ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई थी। सूरज की पत्नी बच्चों के साथ अपने पीहर गई हुई है। भाटी ने वीरवार को ही छोटे बेटे की बरसी मनाई थी। बरसी के कार्यक्रम में बड़ा बेटा विनोद व बड़ी बहू गीता उर्फ गुडिय़ा परिवार समेत शामिल हुए थे। रात को बड़ा बेटा विनोद डियूटी पर चला गया था और बहु व बच्चे रात को 11 बजे खाना खाने के बाद वह अपने-अपने कमरों में जाकर सो गए थे।

सुबह साढ़े 6 बजे पानी की सप्लाई होने पर किराएदार नीचे आया और मकान मालिक भरतसिंह भाटी को आवाज देने लगा कि अंकल मोटर चला दो पानी आ रहा है। लेकिन भाटी के बाहर नहीं निकलने पर वह उनके कमरे में दाखिल हुआ तो पता चला कि भरत सिंह भाटी अपने बिस्तर पर मृत पड़े हैं। पास के पलंग पर ही उनकी पत्नी यशोदा सो रही थी, जिन्हें उसने उठाया और भाटी की मौत का पता चला। यह देख घर में रोना शुरू हो गया।

घर पर बड़ी बहू गीता नहीं थी और उसके पीहर इन्द्रा कॉलोनी में फोन कर उसके भाई से बहू के आने के बारे में पूछा तो पता चला कि वह वहां भी नहीं पहुंची है। परिजनों ने 112 पर फोन कर पुलिस को मौंके पर बुलाया। मृतक की पत्नी यशोदा ने अपनी बड़ी बहु गीता और उसके प्रेमी पर हत्या का आरोप लगाया है। सूचना मिलते ही डीसीपी बल्लभगढ़ जयबीर राठी, डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान, एसीपी क्राइम सुरेंद्र श्योराण ने पुलिस टीम सहित घटनास्थल पर पहुंचकर मौके का जायजा लिया और एफएसएल टीम द्वारा घटनास्थल से अहम सुराग एकत्रित किए और पुलिस ने बहू के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

प्रेमी से हथियार मंगवा गोली मारी
बल्लभगढ़ सिटी थाने के एसएचओ ने बताया कि मौकाए वारदात पर भरत सिंह भाटी के गले पर अड़ा कर गोली मारकर उनकी हत्या की गई है। वहीं पास ही दूसरे पलंग पर सो रही उनकी पत्नी यशौदा को भी नींद की गोलियां दी गई होगी जिससे उन्हें गहरी नींद आ गई और गोली की आवाज सुनाई नहीं दी। हत्या का आरोप भाटी की बड़ी बहु गीता पर है। उसके पास हथियार कहां से आया इसके लिए उसने अपने प्रेमी की मदद ली। वह हत्या अकेली नहीं कर सकती इसलिए देशी कट्टा उसने अपने प्रेमी से मंगवाया और ससुर को गोली मार दी। परिजनों ने भी बहू पर ही हत्या का शक जताया है। 

प्रॉपर्टी के लिए हुई भरत सिंह की हत्या
पुलिस को दी अपनी शिकायत में मृतक की पत्नी पीड़ित यशौदा देवी ने बताया कि उनके पति का नाम भरत सिंह है। भरत सिंह उसके दूसरे पति है। उनके दो बेटे और 1 बेटी हैं। बेटों का नाम विनोद तथा सूरज है। उनके पहले पति मन्नु से 37 वर्षीय विनोद उनका बड़ा बेटा है। जबकि 28 वर्षीय छोटा बेटा सूरज और पुत्री भरत सिंह से है। सूरज की पिछले साल ट्रेन हादसे में मृत्यु हो गई थी जिसकी कल पहली बरसी थी। छोटे बेटे की पत्नी अपने बच्चों सहित अपने मायके में रहती है। अब वह अपने बड़े बेटे विनोद के साथ रह रहे थे। सारी जायदाद उनके पति भरत सिंह के नाम है। उनके बड़े बेटे विनोद की पत्नी गीता अपने ससुर भरत सिंह के साथ सारी प्रॉपर्टी उनके नाम लगवाने की जिद करती थी। उसने कई बार हम पर इस बात का दबाव बनाया परंतु उनके पति भरत सिंह बार.बार इस बात से इनकार करते रहे। इसी बात को लेकर वह उनसे झगड़ा करती रहती थी। उसने पैसे देकर किसी लड़के से एक देसी पिस्टल मंगवाया था। सुबह जब उन्हें अपने पति की मृत्यु का पता चला तो उनकी बहू वहां से फ रार हो चुकी थी। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static