सिंघु बॉर्डर पर हार्ड अटैक से हुई किसान की मौत, 12 फरवरी से था आंदोलन में शामिल

2/23/2021 3:57:07 PM

सोनीपत (पवन राठी): सिंघु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन लगातार जारी है वहीं किसानों की मौत का सिलसिला भी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत हार्ड अटैक की वजह से हुई है।मृतक किसान मंगल सिंह पंजाब का रहने वाला था और 12 फरवरी को सिंघु बॉर्डर पर आया था। यह लंगर में खाना बनाने का काम करता था। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम करवाने के लिए हॉस्पिटल भिजवा दिया है और मामले की जांच कर रही है।

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लगातार किसान दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं।वहीं किसानों की मौतों का सिलसिला भी लगातार जारी है।सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है।मृतक किसान मंगल सिंह तरनतारन पंजाब का रहने वाला था और बीती देर रात अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई और अस्पताल में डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। साथी किसान ने बताया कि वह 12 फरवरी को आंदोलन में आया था और लंगर में खाना बनाने का काम करता था। अचानक तबीयत बिगड़ने  के बाद उसे हॉस्पिटल में एडमिट करवाया गया, लेकिन थोड़ी देर बाद ही एंबुलेंस वहां पर आई  और उसकी मौत हो गई ।यह बॉर्डर पर लंगर बनाने का काम करता था।

पुलिस जांच अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन में शामिल है किसान की मौत हुई है। किसान तरनतारन पंजाब का रहने वाला है और मंगल सिंह इसका नाम है। किसान की मौत हार्ड अटैक से हुई है। फिलहाल शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है और परिजनों को सौंपा जाएगा। मामले में जांच शुरू कर दी गई है।


Content Writer

Isha

Related News