इंश्योरैंस मैच्योरिटी की रकम निकलवाने के नाम पर 22 लाख रुपए की धोखाधड़ी, 3 गिरफ्तार

punjabkesari.in Sunday, Jun 26, 2022 - 09:08 AM (IST)

शाहाबाद मारकंडा : साइबर अपराध अंवेषण शाखा ने इंश्योरैंस मैच्योरिटी की रकम निकलवाने के नाम पर करीब 22 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप में अमनदीप सिंह पुत्र जगदेव सिंह निवासी संजय नगर टिबड़ी थाना सैक्टर-4 रानीपुर हरिद्वार उत्तराखंड, स्वास्तिक पुत्र धीरेंद्र सिंह निवासी शिवलोक कालोनी फेस-2 रानीपुर हरिद्वार उत्तराखंड व चंद्रकांत पुत्र भूपेंद्र सिंह निवासी अलाहपुर नौरंगाबाद थाना धर्मपुर जिला बिजनौर यू.पी. को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 4 मोबाइल फोन, 15 हजार रुपए नकदी व 2 ए.टी.एम. कार्ड बरामद करने में सफलता हासिल की। 

यह जानकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र कर्ण गोयल ने देते हुए बताया कि 17 जून को परमजीत सिंह निवासी पाढलू ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया कि उसके पास जुलाई-2021 में एक अंजान व्यक्ति की काल आई। उसने अपना नाम राज्यवर्धन रेडी बताया और कहा कि वह इंश्योरैंस रैगुलेटरी एंड डिवैल्पमैंट अथॉरिटी इंडिया का कर्मचारी है।  उस व्यक्ति ने बताया कि उसकी बहन दविंद्र कौर के नाम जीवन बीमा पॉलिसी है। उसकी इंश्योरैंस की मैच्योरिटी अमाऊंट के 80 लाख रुपए दिलवा सकता है। उसने उसको अपनी बातों में फंसा लिया और उसके पास अपना खाता नम्बर भेजकर कहा कि खाते में कुछ एडवांस फीस भेज दे, जिससे कि उसके इंश्योरैंस की कार्रवाई को प्रोसैस किया जा सके। 

उसने उसको अपनी बातों में फंसाकर उससे करीब 22 लाख 4 हजार रुपए ठग लिए। उसने न तो उसको कोई इंश्योरैैंस की मैच्योरिटी अमाऊंट दिलवाई और न ही उसकी रकम वापस की। जिसकी शिकायत पर थाना शाहाबाद में मामला दर्ज करके जांच सहायक उप निरीक्षक रामेश्वर को सौंपी गई।  24 जून को साइबर अपराध अंवेषण शाखा  टीम ने मामले में गहनता से जांच करते हुए 22 लाख की धोखाधड़ी करने के आरोप में अमनदीप सिंह, स्वास्तिक व चंद्रकांत को गिरफ्तार कर लिया।  आरोपी अमनदीप सिंह के कब्जे से 1 मोबाइल, एक ए.टी.एम. कार्ड व 5 हजार रुपए नकदी, आरोपी स्वास्तिक के कब्जे से 1 मोबाइल, वारदात में प्रयोग एक ए.टी.एम. कार्ड व 10 हजार रुपए नकदी व आरोपी चंद्रकांत के कब्जे से 2 मोबाइल बरामद करने में सफलता हासिल की। 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static