न्याय की आस में दिव्यांग, बदमाशों ने हमला कर तोड़े हाथ-पैर

punjabkesari.in Tuesday, May 17, 2022 - 03:42 PM (IST)

फरीदाबाद(अनिल): फरीदाबाद जिले में इन दिनों बदमाश पुलिस को चुनौती देते हुए जुर्म को बढ़ावा देने में लगे हैं हर रोज किसी ना किसी इलाके से ऐसे मामले सामने आ रहे हैं। जो पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा करती हैं। ताजा मामला भूपानी कोटला गांव से जुड़ा है। जहां बदमाशों ने एक दिव्यांग को अपना निशाना बनाते हुए उस पर हमला कर दिया।

दबंगों ने दिव्यांग पर अपनी दबंगदई दिखाते हुए उसके हाथ पैर तोड़ दिए। दिव्यांग प्रदीप का आरोप है कि वह खेड़ी पुल इलाके में बने अपने मकानों के किराया लेने के लिए गया गया था और वहां से लौटते समय बदमाशों ने पहले उसकी स्कूटी में नचौली रेलवे के नजदीक टक्कर मारी, जिससे वह सड़क पर गिर गया औऱ फिर बदमाशों ने लाठी-डंडों और सरियों से उस पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया ।

घटना की सूचना राहगीरों ने पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और प्रदीप को फरीदाबाद के सिविल अस्पताल बादशाह खान में भर्ती करवाया गया।  लेकिन वहां डॉक्टरों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया था। लेकिन प्रदीप को उसके परिजनों ने फरीदाबाद के ही एक निजी अस्पताल में भर्ती करवा दिया था। जहां पिछले 15 दिनों से प्रदीप का इलाज चल रहा है ।

प्रदीप और उसके परिजनों की माने तो इस वारदात में संदीप उर्फ टिंडा जो पहले भी कई मारपीट के मामले में जेल जा चुका है । वहीं पीड़ित परिवार ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने की जगह उनसे ही उल्टे सीधे सवाल कर रही है। पुलिस ने केवल दो हमलवारों को गिरफ्तार कर खानापूर्ति की है । मामले में परिवार की मांग है कि जल्द से जल्द सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए और उन्हें न्याय दिलाया जाए।

दिल्ली से सटे फरीदाबाद में पुलिस का खौफ बदमाशों के जहन से खत्म होता नजर आ रहा है।  यह बात हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि दिल्ली से सटे फरीदाबाद के गांव भूपानी कोटला के रहने वाले एक दिव्यांग पर हमला करते हुए उसके हाँथ और पाँव तोड़ दिए। घटना  लगभग 15 दिन पहले की है और घायल का पिछले 15 दिनों से एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है ।पीड़ित का आरोप है की हमला करने वाले आरोपी आज भी खुलेआम घूम रहे है और पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने की जगह उनसे ही उल्टे सीधे सवाल कर रही है। वह चाहते है की पुलिस आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करे और उन्हें इंसाफ दिलाए।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static