जेल में बंद कैदी की कैसे हुई मौत ? इस सवाल को लेकर मृतक के परिजनों का हंगामा

punjabkesari.in Thursday, Jun 30, 2022 - 03:51 PM (IST)

सोनीपत(राम सिंहमार): हरियाणा के सोनीपत की जेल में बंद एक कैदी की मौत होने के मामले में परिजनों ने जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। परिजनों का आरोप है कि मृतक नरेश को जेल में जान का खतरा था। गुस्साए परिजन कई ग्रामीणों के साथ कोर्ट कंपलेक्स चौकी पहुंचे हैं। मृतक के परिजनों का कहना है कि नरेश की मौत नेचुरल नहीं है। इसलिए मौत के असल कारण सामने ना आने तक वे नरेश की डेड बॉडी नहीं लेंगे।

अपहरण और पोक्सो एक्ट के मामले में जेल में बंद था मृतक

जानकारी के अनुसार, नरेश नामक युवक अपहरण और पोक्सो एक्ट के मामले में सोनीपत जेल में बंद था। जेल में ही नरेश की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने जेल में बंद नरेश की मौत को प्राकृतिक मानने से मना कर दिया। परिवार वालों का आरोप है कि नरेश के सिर पर चोट के निशान थे। पीड़ित परिवार का कहना है कि उनके बेटे नरेश को जान का खतरा था और उसे किसी भी हॉस्पिटल में नहीं ले जाया गया। उन्होंने पुलिस  जेल अधीक्षक पर आरोप लगाया गया है कि केवल कागजों में उसे रेफर दिखाया गया था। पीड़ित परिवार का कहना है कि उनके बेटे से दो बार उनकी बातचीत हुई। जब उससे रोहतक या अन्य जगह इलाज के लिए ले जाने की बात पूछी गई तो उसने कहीं नहीं  ले जाने की बात कही गया। परिजनों का कहना है कि वह डर से सहमा होने के कारण कुछ भी बोलने को तैयार नहीं था। उन्हें शक है कि जेल में नरेश के साथ मारपीट भी हुई है। इसलिए उन्होंने नरेश का शव लेने से मना कर दिया है। मृतक के परिजन ग्रामीणों और रिश्तेदारों के साथ इकट्ठा होकर कोर्ट कंपलेक्स में बनी पुलिस चौकी में पहुंचे। परिजनों की मांग है कि नरेश की मौत के असली कारणों का खुलासा हो। उसके बाद ही वे नरेश के शव का अंतिम संस्कार करेंगे।

पुलिस का आश्वासन, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद होगी कार्यवाही

जिला एसपी द्वारा परिजनों को जांच का आश्वासन दिया गया है। वहीं चौकी इंचार्ज संदीप सिंह का कहना है कि महलाना गांव के ग्रामीण काफी संख्या में यहां पहुंचे हैं और जेल प्रशासन पर आरोप लगा रहे हैं। इसी को लेकर शिकायत दी गई है। पुलिस पूरे मामले में अब जांच कर रही है और डॉक्टर की रिपोर्ट आने के बाद ही तथ्यों का पता लग पाएगा कि आखिर नरेश की मौत किन कारणों के चलते हुई है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static