वर्ल्ड चैम्पियनशिप के लिए अब सोनीपत के साई सेंटर में जुटेंगे 1 हजार अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी

12/2/2019 4:05:32 PM

सोनीपत(मनीष): वर्ल्ड क्लास सुविधाओं की मांग कर रहे खिलाडिय़ों के लिए अच्छी खबर है। अब जिले के बहालगढ़ में स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण के अंदर 5 खेलों के एक्सीलेशन सेंटर खोले गए हैं, जिनमें देश के विभिन्न हिस्सों के 1 हजार अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी एक साथ वल्र्ड चैम्पियनशिप की तैयारी कर सकेंगेे। 

ओलिम्पिक 2024 व 2028 में ज्यादा से ज्यादा पदक जीतने का लक्ष्य लेकर विभिन्न योजनाओं पर कार्य कर रहे स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने अब सोनीपत के साई सैंटर में 5 खेलों को तवज्जो देते हुए उनके एक्सीलेशन सैंटर खोलने का निर्णय लिया है। हालांकि पहले से ही चल रहे बॉकिं्सग एक्सीलेशन सैंटर की रोहतक को जिम्मेदारी दी गई है। सोनीपत में आर्चरी, हॉकी, एथलैटिक्स, कबड्डी व हॉकी के नैशनल व इंटरनैशनल स्तर के खिलाड़ी भाग लेंगे, वहीं खेलो इंडिया में पदक जीतने वाले खिलाडिय़ों को तैयार किया जाएगा जबकि नैशनल व एशियन मैडलिस्ट खिलाडिय़ों को कॉमनवैल्थ व ओलिम्पिक जैसे चैम्पियनशिप के लिए तैयार किया जाएगा।

भारतीय खेल प्राधिकरण के अधिकारियों की जानकारी के मुताबिक साई को अब नैशनल सैंटर आफ एक्सीलेशन का दर्जा प्राप्त हो चुका है, ऐसे में आल इंडिया से विभिन्न खेलों के एक साथ एक हजार खिलाड़ी भाग ले सकेंगे। जिनके लिए 400 बैड के और हॉस्टल बनाने की रूपरेखा तैयार की जा रही है। 

हॉकी, कुश्ती व कबड्डी खेल का गढ़ है सोनीपत
वैसे तो सोनीपत जिले से सभी खेलों के खिलाडिय़ों ने अंतर्राष्ट्रीय खेलों में भाग लेकर नाम रोशन किया है लेकिन कुश्ती व कबड्डी के क्षेत्र में शुरूआत से ही जिले को इन खेलों का गढ़ माना जाता है, वहीं बात करें हॉकी खेल की तो पिछले 5 वर्ष के अंदर सोनीपत जिले से करीब 6 खिलाडिय़ों ने भारतीय हॉकी टीम में भाग लेकर जो प्रदर्शन किया है वह काफी सराहनीय व प्रशंसनीय माना जाता है। खिलाडिय़ों के प्रदर्शन को देखते हुए सोनीपत को हॉकी एक्सीलेशन सैंटर की जिम्मेदारी सौंपी है। इसी के साथ आर्चरी व एथलैटिक्स में भी जिले के खिलाडिय़ों ने अपनी छाप छोडऩी शुरू कर दी है। आर्चरी व एथलैटिक्स एक्सीलेशन सैंटर खोले जाने से जिले के खिलाडिय़ों का इन खेलों की तरफ अग्रसर होने का मौका मिलेगा। 


Edited By

vinod kumar

Related News