जेल में बंद गैंगस्टर ने गोली चलवाकर मांगी रंगदारी, सवालों के घेरे में दिल्ली की जेल

punjabkesari.in Tuesday, May 10, 2022 - 08:32 AM (IST)

बहादुरगढ़(प्रवीण): झज्जर के गांव बादली के पूर्व सरपंच अमित छानपाडिया के घर के सामने बदमाशों द्वारा गोली चलाकर उनसे रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। हैरानी की बात यह है कि इस घटना का आरोप दिल्ली की मंडोली जेल में बंद गैंगस्टर अजीत मोटा पर लगा है। आरोपों के अनुसार गैंगस्टर अजीत ने ही बदमाश भेजकर पूर्व सरपंच से रंगदारी मांगी है। इस मामले के बाद जेल में अपराधियों द्वारा फ़ोन इस्तेमाल कर बाहर ऐसी घटनाओं को अंजाम देने से जेल प्रशासन भी सवालों के घेरे में आ गया है। वारदात को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पूर्व सरपंच अमित के घर के बाहर गोली चलाने की यह घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुई है। इसमें साफ तौर पर देखा गया कि किस तरीके से तीन बदमाश मोटरसाइकिल पर सवार होकर पहुंचे और पूर्व सरपंच के घर के बाहर हथियार निकाल कर गोली चला दी। बड़ी ही आसानी से वारदात को अंजाम देकर तीनों मौके से फरार हो गए। हालांकि पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। गिरफ्तार आरोपियों में दो नाबालिग भी शामिल है। वही तीसरा आरोपी बादली का ही रहने वाला करण सिंह है। करण सिंह ने जेल में बंद गैंगस्टर अजीत मोटा के कहने पर पूर्व सरपंच के घर के बाहर फायरिंग की थी। करण सिंह पर इससे पहले भी लूट और डकैती के करीब 5 मामले दर्ज हैं। 

जेल के अंदर बैठे कैदियों द्वारा अपराधिक घटनाओं को अंजाम दिलवाने की बात सामने आने के बाद दिल्ली की हाई सिक्योरिटी जेल पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं। यह घटना जेल प्रबंधन द्वारा जेल में किए गए सिक्योरिटी बन्दोबस्त की पोल खोल रही हैं। झज्जर के एएसपी अमित यशवर्धन का कहना है कि आरोपियों को आज ही कोर्ट में पेश किया जाएगा। वही करण सिंह नाम के आरोपी को पुलिस रिमांड पर लेकर वारदात में इस्तेमाल किया गया हथियार, मोटरसाइकिल और मोबाइल बरामद करने का प्रयास करेंगे। इतना ही नहीं गैंगस्टर अजीत मोटा को भी प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की जाएगी। 

बता दे कि गैंगस्टर अजीत मोटा झज्जर के बादली का ही रहने वाला है। उस पर दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में हत्या, लूट और रंगदारी मांगने के 20 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। आरोपियों से पूछताछ में और भी बड़ी वारदातों का खुलासा होने की उम्मीद है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static