''ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे'' के सिद्धांत पर खड़ी है जजपा, अजय का दावा- भाजपा के साथ गठबंधन जारी रहेगा

9/28/2020 7:53:06 PM

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे' के सिद्धांत पर जजपा खड़ी है और वह अकाली दल बादल का दबाव नहीं मानती नजर आ रही है। कृषि कानूनों के मुद्दे पर पंजाब में जिस प्रकार अकाली दल बादल ने भाजपा व एनडीए से नाता तोड़ लिया है, वहीं जजपा ने हरियाणा में भाजपा से गठबंधन तोडऩे से इनकार कर दिया है। जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला कहा है कि भाजपा-जजपा का गठबंधन जारी रहेगा।

जिन कृषि कानूनों को लेकर पूरे देश में किसानों का गुस्सा उबाल मार रहा है, और जिसके विरोध में शिरोमणि अकाली दल ने एनडीए से अपना नाता तोड़ लिया, उन्हीं कानूनों के समर्थन में जजपा अब भी सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने की बात कह रही है। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने तो पहले ही अपना इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है और आज जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय चौटाला ने भी सरकार से समर्थन जारी रखने की बात कही है।

अजय चौटाला ने कहा कि अकाली दल का अपना स्टैंड, अपनी विचारधारा है और जजपा की अपनी विचारधारा है, ऐसे में जजपा और भाजपा का गठबंधन आगे भी जारी रहेगा। अजय चौटाला के कहने का मतलब तो यही है कि अकाली दल की विचारधारा में तीनों कृषि कानून किसान विरोधी हैं, मगर उनकी विचारधारा में ये तीनों कानून किसान हितैषी हैं। हालांकि, कृषि कानूनों पर सभी दल अपना-अपना पक्ष खुलकर रख रहे हैं। 

बता दें कि भाजपा द्वारा लगातार कृषि कानूनों के समर्थन में बयानबाजी की जा रही है। लेकिन तमाम विपक्षी दलों के साथ सैंकड़ों किसान संगठन इन कानूनों के विरोध में आंदोलन पर उतर आए हैं। अकाली दल जब से कृषि कानून के विरोध में एनडीए से अलग हुआ है, तब से हरियाणा के अंदर जजपा पर गठबंधन तोडऩे का दबाव और बढ़ गया है, लेकिन अजय चौटाला के इन बयानों से साफ है कि जजपा तीनों कृषि कानूनों के समर्थन में है और भाजपा से उनका गठबंधन आगे भी जारी रहेगा।


Shivam

Related News