पूर्व विधायक श्याम सिंह ने बीजेपी का दामन छोड़ा, गुर्जर ने बताई क्या थी उनके मन में कुंठा

9/30/2020 5:59:51 PM

यमुनानगर (सुमित ओबेरॉय): हरियाणा में जहां किसान आंदोलन को लेकर सियासत गरमाई हुई है, वहीं आज रादौर से बीजेपी के पूर्व विधायक रहे श्याम सिंह राणा ने भी किसानों के मुद्दे पर पार्टी से इस्तीफा देकर बीजेपी को तगड़ा झटका दिया है। राणा के इस्तीफे पर कैबिनेट मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि श्याम सिंह बीजेपी के बहुत अच्छे कार्यकर्ता रहे हैं, उन्होंने पार्टी में बहुत अच्छा काम किया। 

उन्होंने कहा कि अब यह तो संगठन की बात है कि अबकी बार के चुनाव में पार्टी ने रादौर से उनकी बजाए करण देव कंबोज को टिकट दिया, मेरे ख्याल से वहीं कुंठा उनके मन में थी, उसी बात से वह परेशान थे। गुर्जर ने कहा कि यह तो पार्टी का निर्णय है। आज आपके सामने मंत्री के रूप में हूं तो मैं अकेला नहीं हूं, मेरे साथ हजारों कार्यकर्ता हैं, जो पार्टी के लिए काम करते हैं, जिन्होंने मुझे यहां तक पहुंचाया। उन्होंने कहा मेरे ख्याल से उनके मन में काफी दिन से था कि उनका टिकट कट गया। इसके लिए उन्हें किसान आंदोलन का बहाना मिल गया। चलो इसका ही नाम ले लें, लेकिन वह अभी तक तो पक्ष में थे। कानून तो अच्छे हैं, ऐसा कुछ मुझे लगता नहीं है।

गुर्जर ने कहा कि बीजेपी एक संगठन है, यहां कोई व्यक्तिगत नहीं है। संगठन ही निर्णय लेता है, कई जगह कोई एडजस्ट नहीं होता, अपना विचार होता है, कई दलों में वहां एक आदमी की हां का मतलब होता है। बीजेपी में आपको संगठन के साथ चलना पड़ता है। संगठन ही निर्णय करता है। राणा को बीजेपी से पूरा सम्मान मिला। उन्होंने बीजेपी के लिए खूब काम किया। पार्टी ने उनको पूरा सम्मान दिया। हर दृष्टि से उन्हें सम्मान मिला। वो अपने इलाके के अध्यक्ष भी रहे। पार्टी ने उनके मान सम्मान में कोई कसर नहीं छोड़ी, उनको अब लगा कि उनकी पॉलिटिक्स सेफ नहीं है तो किसानों का एक अच्छा बहाना है तो इसका नाम लिया जाए।


vinod kumar

Related News