KMP को खतरा : ड्रेन-8 व के.एम.पी. के बीच जमकर हो रहा अवैध खनन

8/10/2020 11:34:37 AM

सोनीपत (ब्यूरो) : सरकार व प्रशासन की आंखों में धूल झोंक कर के.एम.पी. के लिए बड़ा खतरा खड़ा किया जा रहा है। गांव गढ़ी बाला के पास ड्रेन-8 व के.एम.पी. के बीच लंबे समय से अवैध खनन जारी है। खास बात यह है कि यहां पर 15 से 20 फुट तक खनन किया जा चुका है और बार-बार एक ही जगह पर खनन किया जा रहा है। खनन करने वालों ने 33 फुट के रास्ते भी गायब कर दिए है।

हैरानी की बात यह भी है कि गत दिनों शिकायत के बाद खनन विभाग ने एक ठेकेदार को मौके पर पकड़ा था जिस पर जुर्माना भी लगाया गया था लेकिन इसके बाद भी खनन का गोरखधंधा बंद नहीं हो रहा। यहां से रोजाना लाखों की मिट्टी खोदकर के.एम.पी. के लिए खतरा पैदा किया जा रहा है। जानकारों की कहना है कि यहां पर यदि तेज बारिश हुई तो ड्रेन -8 का बांध बहाव को रोक नहीं पाएगा औऱ के.एम.पी. के लिए बड़ा खतरा पैदा हो जाएगा। यही नहीं आसपास के गांवों के लिए भी यह खनन बड़ा खतरा पैदा कर रही है। 

ड्रेन-8 की पटरी को मशीनों से खोदकर बना दिया रास्ता
नियमों को ताक पर रखकर मिट्टी का अवैध रुप से खनन करने वाले ठेकेदारों ने जिस तरह से मिट्टी का उठान किया है उससे साफ जाहिर होता है कि संबंधित अधिकारियों व पुलिस की शह पर यह काफी समय से मिट्टी चोरी करने का सिलसिला चल रहा है। जिस तरह से ड्रेन-8 की पटरी को खोदकर रास्ता बनाया गया है वहां पर कई बार पुलिस ल अधिकारियों का आना-जाना होता है। 

तेज बारिश हुई तो डूब सकते है कई गांव 
ड्रेन-8 वैसे तो आसपास के गांव के लिए बाढ़ के समय बचाने का काम करती है लेकिन लगातार खनन से यहां पर हालात बदल गए है। मिट्टी चोरी माफिया ने ड्रेन की पटरी से मिट्टी का उठान करके बेच डाली है। आसपास के लोगों को चिंता सताने लगी है कि लगातार बरसात हुई तो क्या होगा। बाढ़ के हालातों में गांवों को तो खतरा होगा ही साथ ही के.एम.पी. भी दरक सकता है। के.एम.पी. व ड्रेन के बीच में बन रहे ट्राईएंगुलर में खनन रोकने की शिकायत डी.सी. को भी भेजी गई है।  


Edited By

Manisha rana

Related News