लोहड़ी का पर्व आज: लोग लोकगीत गाकर करते हैं दुल्ला भट्टी को याद

punjabkesari.in Thursday, Jan 13, 2022 - 11:09 AM (IST)

गुडग़ांव : देश के कई राज्यों हरियाणा, हिमाचल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश व जम्मू-कश्मीर में आज लोहड़ी का पर्व धूमधाम से मनाया जाएगा। पंजाब व हरियाणा में इस त्यौहार को लेकर अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। नई फसलों से जोड़ कर भी इस पर्व को देखा जाता है। कोरोना महामारी के दौरान लोहड़ी का पर्व मनाया जाएगा। इसलिए कोरोना संक्रमण से बचने के लिए एहतियात बरतनी भी बहुत जरुरी है। ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि लोहड़ी सूर्य से मकर राशि में प्रवेश करने के एक दिन पूर्व मनाई जाती है, इसलिए लोहड़ी का पर्व आज 13 जनवरी को ही मनाया जाएगा। 

लोग करते हैं लोहड़ी की पूजा
लोहड़ी पर्व की रात को परिवार व आस-पड़ोस के लोग इकट्ठे होकर लकड़ी जलाते हैं। इसके बाद तिल, रेवड़ी, मूंगफली, मक्का व गुड़ अन्य चीजेेंं अग्नि को समर्पित करते हैं। परिवार के लोग आग की परिक्रमा कर सुख-शांति की कामना करते हैं। अग्नि परिक्रमा की पूजा के बाद रेवड़ी व मूंगफली को प्रसाद के रुप में सभी लोगों को वितरित किया जाता है।

दुल्ला भट्टी को करते हैं याद
लोकगीत गाकर लोग दुल्ला भट्टी को याद करते हैं। लोहड़ी का गीत सुंदर मुंदरिए हो, तेरा कौन विचारा हो, दुल्ला भट्टी वाला हो, दुल्ले दी धी बयाही हो गाया जाता है। बड़े बुजुर्गों का कहना है कि इस लोकगीत से एक पुरातन कहानी भी जुड़ी हुई है। 
दुल्ला भट्टी नाम के एक डाकू ने पुण्य का काम किया था। ऐसा कहा जाता है कि सुंदर व मुंदर नाम की 2 लड़कियां थी और वह अनाथ थीं। इन लड़कियों के चाचा ने दोनों को किसी सूबेदार को सौंप दिया था। जब डाकू दुल्ला भट्टी को इस बात का पता चला तो उसने सुंंदर व मुंदर दोनों लड़कियों को मुक्त करवाया और 2 अच्छे लड़के ढूंढकर इनकी शादी करवा दी। कहा जाता है कि जब इन दोनों लड़कियोंं की शादी हुई थी तो आसपास से लकडियां एकत्रित कर आग जलाई गई थी और शादी में मीठे फल की जगह गुड़, रेवड़ी व मक्के जैसी चीजों का इस्तेमाल किया था। उसी समय से दुल्ला भट्टी की अच्छाई को याद करने के लिए यह पर्व मनाया जाता है। इस पर्व को लेकर बुधवार को शहर के मुख्य सदर बाजार, जैकबपुरा, सोहना चौक, रामलीला मैदान, ओल्ड व न्यू रेलवे रोड स्थित बाजारों की दुकानों पर मूंगफली, रेवड़ी आदि खरीदने वालों की भारी भीड़ दिखाई दी।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static