कुर्सी न मिली तो तौहीन मान चले गए विधायक मिड्ढा, समर्थकों के विरोध पर अनूप धानक मनाकर लाए(VIDEO)

punjabkesari.in Tuesday, Jan 28, 2020 - 09:31 AM (IST)

जींद(जसमेर): सोमवार को जींद जिला परिवेदना समिति की बैठक में कुर्सी को लेकर हाईवोल्टेज ड्रामा हुआ। जींद के भाजपा विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा को मंत्री अनूप धानक के साथ की कुर्सी से उठकर दूसरी कुर्सी लेने के लिए कहा गया तो विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा इसे अपमान मानकर कुछ देर बाद बैठक छोड़कर बाहर निकल गए। विधायक को मंत्री के साथ वाली कुर्सी से इस तरह उठा देने पर उनके समर्थक भड़क गए और नारेबाजी करजे हुए इसका विरोध जताया। उन्होंने कहा कि इस तरह से विधायक को कुर्सी से उठाना उनका अपमान है।

इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से की जाएगी। मामला बढ़ते देख मंत्री अनूप धानक खुद स्टेज से उतरे और लगभग 25 मिनट बाद विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा को गाड़ी में बिठाकर डी.आर.डी.ए. हॉल में समिति की बैठक की स्टेज पर लेकर पहुंचे। इसके बाद ड्रामे का अंत हुआ। बता दें कि उनकी सीट पर ए.एस.पी. अजीत सिंह शेखावत को बैठा दिया गया था।

विधायक बोले- खुद मंत्री ने उन्हें साथ वाली कुर्सी से उठाया
भाजपा विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा ने कहा कि खुद मंत्री ने उस कुर्सी पर ए.एस.पी. को बिठाया, जिस पर वह लगभग एक घंटे से बैठे हुए थे। मंत्री ने उन्हें दूसरी कुर्सी लेने के लिए कहा और यह उन्हें अच्छा नहीं लगा। अधिकारियों के लिए बैठक की अध्यक्षता करने वाले मंत्री के दूसरी तरफ कुर्सियां होनी चाहिएं और एक तरफ जन प्रतिनिधियों की कुर्सियां होनी चाहिएं।

अनूप धानक बोले- विधायक काम से गए थे बाहर 
पूरे प्रकरण के बाद राज्यमंत्री अनूप धानक ने कहा कि विधायक को पिंडारा गांव में किसी कार्यक्रम में जाना था। इसी कारण वह बैठक से चले गए थे। यह मामला कुर्सी से जुड़ा हुआ नहीं था। इसके बाद मंत्री विधायक के घर भी पहुंचे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

vinod kumar

Related News

Recommended News

static