नौजवान की संदिग्ध हत्या मामले में 12 दिन बाद भी कार्यवाही ना होने से परेशान हुआ पीड़ित परिवार

punjabkesari.in Friday, May 13, 2022 - 08:12 PM (IST)

रोहतक(दीपक): हरियाणा के रोहतक जिले के गांव करोंथा में दो नौजवान युवकों की संदिग्ध हत्या मामले में 12 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही ना करने पर परिजन काफी परेशान हैं। अपनी यही परेशानी बताने के लिए जब पीड़ित परिवार आज हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज की परिवेदना समिति की बैठक में जाना चाहते थे, तब पुलिस अधिकारियों ने पीड़ित परिवार को गृहमंत्री के सामने जाने ही नहीं दिया। उधर रोहतक के विधायक बीबी बतरा ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।

पीड़ित परिवार के अनुसार 24 वर्षीय अरविंद कौशिक रोहतक स्थित एक निजी हॉस्पिटल में ओटी स्पेशलिस्ट के तौर पर काम करता था। 2 मई को अरविंद अपनी बुलेट पर सवार होकर हॉस्पिटल पहुंचा था। पूरी रात हॉस्पिटल में ड्यूटी करने के बाद अरविंद कौशिक और उसके साथी सुमेंद्र के मोबाइल सुबह 6 बजे ही  बंद हो गए।  4 मई को दोनों के शव रोहतक से लगभग 40 किलोमीटर दूर जेएलएन नहर से बरामद हुए लेकिन ना तो दोनों के मोबाइल मिले और ना ही बुलेट मोटरसाइकिल। इस आधार परिजनों ने पुलिस को दोनों की हत्या की शिकायत दी थी। लेकिन पुलिस ने दोनों की केवल गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की और कार्यवाही करने का आश्वासन देकर परिवार को टालते रहे।

 घटना के 12 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने इस मामले में हत्या का मुकदमा भी दर्ज नहीं किया। मृतक का परिवार तमाम अधिकारियों के चक्कर लगाकर थक चुका है। आज इसी मामले को लेकर पीड़ित परिवार हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज से मिलना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें गृह मंत्री से नहीं मिलने दिया । परिजन चाहते हैं कि पुलिस मामले की गहराई से जांच कर हत्या के कारणों का पता लगाकर जांच को आगे बढाए।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static