पुलिस व आरटीए विभाग की रेकी करने वाले व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिन को किया गिरफ्तार

11/28/2020 3:26:40 PM

यमुनानगर (सुरेंद्र मेहता): यमुनानगर जिला में पिछले काफी समय से व्हाट्सएप ग्रुप अलग-अलग लोगों द्वारा चलाए जा रहे थे, जिन का कार्य पुलिस एवं आरटीओ विभाग के अधिकारियों की रेकी करना था। यह अधिकारी किसी भी इलाके में चेकिंग के लिए जाते उन इलाके के वाहन चालकों के पास व्हाट्सएप ग्रुप पर संदेश आ जाते। जिसके बाद वह वाहन चालक उन सड़कों को छोड़ देते थे। इससे ओवरलोडिंग का खेल लगातार जारी रहा। जिससे सरकार को करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ। अब ऐसे व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है।

यमुनानगर एआरटीओ इंस्पेक्टर पूर्ण सिंह ने थाना साडोरा में दर्ज करवाई शिकायत में बताया कि वह साडोरा से कालेआम रोड पर ओवरलोड वाहनों की जांच के लिए जा रहे थे। इस दौरान एक गाड़ी उनका पीछा कर रही थी। शक होने पर गाड़ी को रोककर चेक किया गया और गाड़ी में बैठे व्यक्ति से मोबाइल काबू किया गया तो उसमें भाईचारा नामक ग्रुप देखा गया। जिसमें कई लोग सम्मिलित है। पूछताछ में पाया गया कि यह ग्रुप वाहन चालकों को सूचना देता था जिस पर वाहन चालक इधर उधर हो जाते थे। इससे सरकार को राजस्व का नुकसान होता था और सड़कें भी क्षतिग्रस्त होती थी। 

वहीं थाना साडोरा प्रभारी बलबीर सिंह ने बताया कि इस संबंध में इंस्पेक्टर पूर्ण सिंह की शिकायत पर मुकदमा दर्ज करके अकरम को गिरफ्तार किया गया और उसकी गाड़ी और मोबाइल काबू किया गया, जिससे वह सूचनाएं देते थे। ताकि गाड़ियां न पकड़ी जा सके। उन्होंने कहा कि अब ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगेगा। 

इससे पहले डिस्टिक ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी भारत भूषण कौशिक ने ऐसे तीन व्हाट्सएप ग्रुप को बंद करवा दिया था जो अधिकारियों की रेकी करते थे, लेकिन एक ग्रुप का एडमिन नोटिस दिए जाने के बावजूद यह काम कर रहा था जिसे गिरफ्तार कर लिया गया।


vinod kumar

Related News