छात्रा के हाथ की मेहंदी देखना छात्र को पड़ा भारी, स्कूल प्रिंसिपल ने डंडा मारकर तोड़ा दांत

punjabkesari.in Friday, Aug 05, 2022 - 04:39 PM (IST)

पानीपत(सचिन): हरियाणा के पानीपत में एक निजी स्कूल में छठी कक्षा के बच्चे के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया। बताया जा रहा है कि बच्चा स्कूल की ही पहली क्लास की छात्रा के हाथों के मेहंदी देख रहा था। इसके चलते अध्यापिका द्वारा सजा स्वरूप बच्चे की पिटाई की गई, जिससे बच्चे का दांत तक टूट गया है।

 

स्कूल में चल रही मेहंदी प्रतियोगिता में छात्रा के हाथ की मेहंदी देख रहा था छात्र

 

पीड़ित बच्चा पानीपत की डाबर कॉलोनी का रहने वाला है। बच्चे वंश ने बताया कि उनके स्कूल में मेहंदी प्रतियोगिता चल रही थी। इस दौरान वह स्कूल की एक पहली कक्षा की छात्रा के हाथों में लगी मेहंदी देख रहा था। इसी दौरान वंश की टीचर हैप्पी वहां पहुंच गई और थप्पड़ व डंडों से उसकी पिटाई की। छात्र वंश का आरोप है कि उसके उनकी टीचर उसे प्रिंसिपल के पास लेकर गई। प्रिंसिपल ने भी वंश के मुंह पर डंडा मारा, जिससे उससे एक दांत भी टूट गया। वंश ने बताया कि भरी क्लास में टीचर और प्रिंसिपल ने उसके बाद अभद्र व्यवहार किया। यही नहीं इसके बाद स्कूल में अनाउंसमेंट करा दी कि अगर कोई वंश के साथ बात करेगा तो उस पर 50 रूपए का जुर्माना लगाया जाएगा। 

 

छात्र का आरोप, पिटाई के बाद मांगने के बावजूद भी नहीं मिला पानी

 

वंश ने इसके आगे जो बताया वह हैरान कर देने वाला है। उसने बताया कि पिटाई के बाद वह रो-रो कर पानी मांग रहा था, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने उसे पानी तक नहीं दिया। वंश के दोस्तों ने ही चोरी चुपके उसे पानी पिलाया। स्कूल की छुट्टी के बाद वंश खून से लथपथ घर पहुंचा तो मां के होश उड़ गए। सोनिया अपने बेटे वंश को लेकर किला थाना पहुंची और स्कूल की अध्यापिका हैप्पी और प्रिंसिपल पूनम के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रिंसिपल और टीचर पर जुवेनाइल एक्ट के तहत मामला दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है।

 

स्कूल प्रबंधन ने आरोपों को बताया निराधार

 

किला थाना एसएचओ जाकिर ने बताया कि वंश की मां की शिकायत पर टीचर और प्रिंसिपल पर मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। वही जब इस मामले को लेकर स्कूल प्रबंधन का पक्ष जानना चाहा तो, उन्होंने स्कूल की छवि खराब होने का हवाला देते हुए पक्ष देना उचित नहीं समझा। हालांकि ऑफ कैमरे अपने उन्होंने छात्र द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को सिरे से नकार दिया।

 

 (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static