नौ देवियों के पर्व में एक ‘देवी’ की दुर्दशा, पार्क में मिला नवजात बच्ची का शव

10/19/2020 10:56:03 AM

गुडग़ांव (ब्यूरो) : एक तरफ जब नौ देवियों की उपासना में श्रद्धालु लीन हैं तो दूसरी ओर एक देवी (एक नवजात बच्ची) को बेरहमी से फेंक दिया गया। समाज में ये कैसी सोच है। जहां एक तरफ हम देवियों की उपासना करते हैं तो दूसरी तरफ हमारे घर पधारी देवी का अपमान और वो भी तब जब चारों ओर से लगातार जागरुकता संदेश फैलाए जा रहे हैं कि बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ। 

जी हां सेक्टर 43 स्थित सुशांतलोक थाना क्षेत्र के लॉर्ड कृष्णा सोसाइटी अपार्टमेंट के साथ लगते पार्क में एक नवजात बच्ची का शव बरामद हुआ है। शुरुआती जांच में सामने आया है कि बच्ची का सिर फटा हुआ है, जिससे लगता है कि या तो बच्ची को पार्क से लगती बहुमंजिला इमारत से ही पार्क में फेंक दिया गया हो या फिर पार्क से लगती 20 फुट ऊंची चारदीवारी के उस पार से। बच्ची को पैदा होने के बाद पार्क में फेंका गया, उसके नाल तक शरीर में लिपटे हैं। उसकी मौत फैंके जाने से हुई या पैदा होने के दौरान मौत होने के बाद उसे फैंका गया, इसकी जानकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मिलेगी।

हालांकि बच्ची के शव को अभी पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। वहीं इस मामले में सुशांतलोक थाना के जांच अधिकारी नरपाल सिंह ने बताया कि 14 अक्टूबर को पार्क में घूमने जाने वालों ने सूचना दी थी, बच्ची के शव की जांच करने पर देखा तो उसके सिर में चोट के निशान थे जिसके बाद हमने मामले की तहकीकात के लिए पार्क से सटी बिल्डिंग में पूछताछ की, लेकिन कोई ऐसा सुराग नहीं मिला जिससे पता लगे कि बिल्डिंग में ही रहने वाले किसी ने बच्ची का शव पार्क में फेंका हो।

पार्क से सटी 20 फुट ऊंची चारदीवारी के पीछे हरिजन कॉलोनी है हो सकता है कॉलोनी की तरफ ही रहने वाले किसी ने बच्ची को उस पार से इस पार पार्क में फेंक दिया हो। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है और लोगों से अपील की जा रही है कि अगर किसी को भी पार्क में बच्ची को फेंकने का कोई सुराग मिले तो वह सुशांत लोक थाना पुलिस को अवश्य जानकारी दें, जिससे कि ऐसा कृत्य करने वाले को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने में सफलता मिल सके।
 


Manisha rana

Related News