प्रेमी जोड़ो की सुरक्षा का मामला: पंजाब व चंडीगढ़ ने जवाब देने के लिए मांगा समय

punjabkesari.in Saturday, Apr 16, 2022 - 04:18 PM (IST)

चंडीगढ़(चन्द्र शेखर धरणी): हरियाणा सरकार घर से भाग कर विवाह करने वाले प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा के लिए गंभीर है, इसके लिए सरकार ने प्रेमी जोड़ों की सुरक्षा के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी के लिए लोगो को जागरूक किया जा रहा है।  ताकि जरूरतमंद प्रेमी जोड़े इस का लाभ उठा सके। सरकार की तरफ  से कोर्ट को बताया गया कि घर से भाग कर विवाह करने वाले प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा के लिए अब कहीं जाने की जरूरत नहीं , हरियाणा सरकार उनको ऑनलाइन सुरक्षा देने पर काम कर रही है। हाई कोर्ट में सरकार की तरफ से बताया गया कि कोर्ट के आदेशानुसार प्रेमी जोड़े की सुरक्षा के लिए ऑनलाइन पोर्टल तैयार है ।

इसी मामले में पंजाब सरकार ने हाई कोर्ट को बताया कि पंजाब सरकार भी इस मामले को गंभीरता से  ले रही है और सरकार की कोशिश है कि प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा के लिए अनावश्यक रूप से कोर्ट कचहरी के चक्कर न काटने न पड़े। पंजाब सरकार ने कोर्ट को बताया कि  सरकार द्वारा इस मामले में उठाए गए कदमों की जानकारी राज्य के गृह द्वारा हलफनामा दायर कर दी जाएगी, इसके लिए उसे  कुछ समय दिया जाए।

चंडीगढ़ प्रशासन ने भी इस मामले में जवाब दायर करने  लिए कुछ समय देने की मांग की। सभी पक्षों को सुनने के बाद हाई कोर्ट ने हरियाणा,पंजाब व चंडीगढ़ की सभी लीगल सर्विस अथॉरिटी को भी इस मामले में सहयोग करने का आदेश देते हुए 29 अप्रैल तक स्थगित कर दी। इससे पहले हरियाणा गृह विभाग के उप सचिव ने हाई कोर्ट में एक हलफनामा दायर कर हाई कोर्ट को बताया था कि राज्य सरकार ने सभी जिलों में रनवे कपल की सुरक्षा के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग को नोडल विभाग बनाया गया है। सरकार ने विभाग को सभी जिलों प्रोटेक्शन होम स्थापित करने का जिम्मा भी इसी विभाग को दिया है।  कोर्ट को यह भी बताया गया कि सभी जिलों में रनवे कपल की सुरक्षा के लिए डीसी द्वारा कमेटियों का गठन किया गया जो किसी भी तरह की शिकायत मिलने पर तुरंत उचित कदम उठाती है। राज्य के सभी जिलों में वन स्टाप सेंटर भी खोला गया है।

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static