बहादुरगढ़ में लगी नेकी की दीवार, जरूरतमंद लोगों को फ्री में बांटे गए कपड़े

punjabkesari.in Monday, Nov 02, 2020 - 10:27 AM (IST)

बहादुरगढ़ (प्रवीण धनखड़) : रोए हुए को हसाने से पुण्य का काम इस धरा पर कोई नहीं है। गरीब के चेहरे पर खुशी और नंगे बदन को कपड़ा देने वाला सौभाग्यशाली होता है। भूखे पेट को खाना खिलाना भी पुण्य का काम है। इसी तरह बहादुरगढ़ के सैंकड़ों युवा इस पुण्यशाली काम से जुड़े हुए है। रोबिन हुड आर्मी जैसे संगठन बनाकर ये युवा समाज की अंतिम पंक्ति के लोगों को मुख्यधारा में लाने का काम कर रहे हैं।

PunjabKesari
पिछले लंबे समय से यह संगठन नेकी की दीवार लगा रहे है। इस दीवार पर शहर के लोग अपनी मर्जी से अपने कपड़े रखते हैं और जरूरतमंद लोग अपनी जरूरत के हिसाब से वो कपड़े अपने लिए ले जाते हैं। रविवार को नेकी दीवार के जरिए जरूरत मंदों के लिए सर्दी के कपड़ों की सौगात लेकर नेकी की दीवार लाइनपार में भी सजाई गई है। रोबिन हुड आर्मी ने शहर के नाहरा-नाहरी रोड पर नेकी की दीवार लगाई। इस दीवार पर शहर के लोगों ने सैकड़ों कपड़े रखे और लोगों ने अपनी जरूरत के कपड़े फ्री में हासिल किए। 
 

फेसबुक और व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया पर नेकी की दीवार से प्रेरित होकर बहादुरगढ़ की रोबिन हुड आर्मी ने लाइनपार में नाहरा-नाहरी रोड पर नेकी की दीवार सजाई है। दो सौ से ज्यादा लोगों ने इस दीवार के पास से अपनी जरूरत के कपड़े लिए हैं। कपड़े पाने वाला और देने वाला दोनों खुश नजर आए।

रॉबिन हुड आर्मी के सदस्यों का कहना है कि दीवाली के अवसर पर लोग अपने घरों की सफाई करते हैं। पुराने कपड़े घर से बाहर निकालते है। वहीं कपड़े लोग यहां रखते है और जरुरतमंद उन कपड़ों को पाकर खुशी हो जाते है और उन्हें सच्चे मन से दुआएं भी देते है। उन्होंने कहा कि लोगों के साथ अपनी खुशी बांटना सबसे बड़ा काम है और इस काम के लिए लोगों का दिल से अमीर होना बेहद जरुरी है। नेकी की दीवार से कपड़े पाने वाले लोग भी बेहद खुश है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Manisha rana

Related News

Recommended News

static