हादसा: बहन को लेकर हंसी-खुशी घर लौट रहा था भाई, दस महीने के भांजे सहित तीनों की मौत

8/3/2020 6:08:33 PM

बहादुरगढ़ (प्रवीण धनखड़): भाई-बहन के अटूट प्रेम के इस पर्व पर घटित इतनी दुखद घटनाओं को व्यक्त करते हुए हमारा भी दिल अंदर से मसोस कर रह जाता है कि आखिर इन घटनाओं को क्या इस खुशहाली वाले दिन ही घटित होना था। दरअसल, आज बहादुरगढ़ में पडऩे वाले कुंडली मानेसर पलवल एक्सप्रेस वे पर बड़ा हादसा हो गया, जिसमें भाई, बहन और एक 10 महीने के मासूम भांजे की आकस्मिक मौत हो गई। 

हादसे का कारण केएमपी के बीचोंबीच खड़ा गैस टैंकर बना, जिससे एक सेंट्रो कार सीधी जा टकराई। इस टक्कर से कार में सवार गौरव उसकी बहन प्रीति और भांजे की मौत हो गई। गौरव सोनीपत का रहने वाला था जो रक्षाबंधन के मौके पर बहन को लेने के लिए बादली आया था। बहन से राखी बंधवाने के बाद गौरव अपनी बहन और भांजे को अपने साथ लेकर सोनीपत आ रहा था। 

केएमपी पर बादली टोल से 2 किलोमीटर की दूरी पर गौरव की कार सड़क के बीच में गलत तरीके से खड़े गैस टैंकर में सीधी जा घुसी, हादसा इतना गंभीर था कि तीनों की मौत हो गई। वहीं हादसे के बाद गैस टैंकर का ड्राइवर भी मौके से गायब हो गया। इधर, एम्बुलेंस की मदद से तीनों के शव बहादुरगढ के ट्रॉमा सेंटर लाए गए जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपे गए। पुलिस ने फिलहाल मामला दर्ज कर कानूनी कार्यवाही शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि इस हादसे ने सड़कों के बीच और किनारों पर खड़े होने वाले वाहनों पर एक बार सवाल खड़ा किया है। सड़क किनारे अवैध पार्किंग के कारण हर साल सैंकड़ो हजारो हादसे होते हैं लेकिन सड़क किनारे अवैध पार्किंग कर खड़े होने वाले हैवी वाहनों पर कोई कार्यवाही नहीं होती है। ट्रैफिक पुलिस भी दोपहिया वाहनों के चालान तक ही सीमित दिखाई देती है। ऐसे में जिस इलाके में इस तरह सड़क पर अवैध पार्किंग से होने वाले हादसों पर पुलिस की जवाबदेही तय करने की जरूरत हो जाती है।


Shivam

Related News