खैर तस्करों को पुलिस ने लिया रिमांड पर, हो सकता है बड़ा खुलासा

punjabkesari.in Thursday, Jan 14, 2021 - 08:37 AM (IST)

साढौरा : खैर तस्करी में ट्रक के साथ पकड़े गए पांचों आरोपियों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया है। जहां से उनको 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। रिमांड के दौरान पुलिस पता करेगी कि यह खैर की लकड़ी कौन से जंगलों से काटी गई है और इसमें कौन-कौन बड़े चेहरे शामिल हैं। जिस ट्रक में खैर की तस्करी की जा रही थी। उसके नंबर से देखकर आशंका जताई जा रही है कि ट्रक पर लगी नंबर प्लेट भी फर्जी है। जिसका खुलासा जांच करने के बाद सबके सामने आने की उम्मीद है।

ज्ञात हो कि मंगलवार को साढौरा पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर एक खैर से भरा ट्रक पकड़ा था। जिसमें करीब 130 क्विंटल खैर की लकड़ी बरामद की थी। जिसकी बाजार में कीमत करीब 17 लाख बताई जा रही है। खैर के ट्रक की आने की सूचना पर साढौरा पुलिस ने पहाड़ीपुर नाका के पास नाकाबंदी की थी। जिसमें खैर की लकड़ी से भरे ट्रक नाकाबंदी तोड़कर भागने का प्रयास किया पर पुलिस ने तस्कर दोबच लिए। पुलिस ने ट्रक से 5 लोगों को गिरफ्तार किया था। खैर से भरे ट्रक को अपने कब्जे में लेकर थाने में सीज कर दिया था। खैर की तस्करी कर रहे ट्रक में सवार पांचों आरोपियों के पास लकड़ी से जुड़ा कोई भी दस्तावेज नहीं था। लकड़ी से भरे ट्रक के साथ पकड़े गए पांचों आरोपियों को बुधवार को पुलिस ने बिलासपुर कोर्ट में पेश किया था जहां से उनको 5 दिन के रिमांड पर लिया गया है।

वन विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत के बिना नहीं हो सकती खैर तस्करी
सूत्रों के अनुसार वन विभाग की इच्छा के बिना एक पेड़ का पत्ता भी नहीं तोड़ा जा सकता। फिर हर दिन खैर के पेड़ों पर कुल्हाड़ा चलाया जा रहा है। तस्कर बड़ी आसानी से जंगल से खैर काटकर ले जाते हैं, कहीं न कहीं वन विभाग के कर्मचारी उन्हें पकड़ नहीं पाते या फिर पकडऩा नहीं चाहते। यह सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा। वन विभाग लगातार तस्करों को काबू करने का दावा तो कर रहा है, लेकिन खैर की तस्करी देखकर कहीं न कहीं यह लगता है कि वन विभाग कुभकर्णी नींद सोया हुआ है । 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Manisha rana

Related News

Recommended News

static