शिकायतों में पति-पत्नी लगा रहे अजीबो-गरीब आरोप

1/17/2020 1:48:24 PM

हिसार(स्वामी): नई पुलिस लाइन की आवासीय कालोनी के महिला थाने में बने जिला महिला संरक्षण अधिकारी कार्यालय में साल 2019 में महिला विरूद्ध अपराध की कुल 746 शिकायतें आई। उनमें कुछ शिकायतों में पति-पत्नी ने एक-दूसरे पर अजीबोगरीब आरोप लगाए। 

महानगर में रहने वाला एक इंजीनियर तलब करने पर पत्नी के व्हाट्सअप की चैट स्कैन कर महिला संरक्षण अधिकारी कार्यालय पहुंचा। उसने कहा कि हमारी सुलह नहीं हो सकती, मुझे तलाक चाहिए। एक मोहल्ले की 26 वर्षीय पोस्टग्रेजुएट युवती निजी कंपनी में बड़े ओहदे पर है। 

उसकी शादी 4 साल पहले हुई थी। युवक एक नामी कंपनी में इंजीनियर है। पिछले साल युवती ने जिला महिला संरक्षण अधिकारी कार्यालय में पहुंचकर पति के खिलाफ घरेलू ङ्क्षहसा की शिकायत दी थी। कार्यालय की तरफ से इंजीनियर को तलब किया गया। जिला महिला संरक्षण अधिकारी कार्यालय के स्टाफ सदस्य शिकायतकत्र्ता के पति द्वारा प्रस्तुत साक्ष्य देखकर दंग रह गए। 

इंजीनियर पत्नी के व्हाटसअप चैट को स्कैन करके लाया था। उसमें पत्नी और उसके ब्यॉयफ्रैंड के बीच हुई चैटिंग दिख रही थी। जो इंजीनियर को नागवार गुजरी। उसने साफ शब्दों में कहा कि पत्नी से सुलह किसी सूरत में नहीं हो सकती, मुझे तलाक चाहिए। बाद में मामला अदालत में भेज दिया था। इसके अलावा अलग शिकायतों में दहेज प्रताडऩा के साथ-साथ जेठ या ससुर पर छेड़छाड़ के आरोप लगाए गए।

मुख्य रूप से यह आता है घरेलू हिंसा की श्रेणी में 
जिला महिला संरक्षण अधिकारी बबीता चौधरी ने बताया कि पत्नी को किसी से बात करने से रोकना, पत्नी के सामने धूम्रपान करना, बिना पसंद वाला निकनेम बोलना, पढ़ाई या नौकरी करने से रोकना, बच्चा या बेटा पैदा न होने पर ताने मारना, दहेज न देने या कम देने बारे कटाक्ष करना, सुंदर न होने का ताना देना, कम पढ़ी-लिखी होने पर ताना देना मुख्य रूप से घरेलू हिंसा की श्रेणी में आता है। इसके अलावा और बहुत से कारण हैं। चौधरी ने बताया कि पीड़िता उनके कार्यालय में शिकायत दे सकती है। उनके पास पुलिस अधीक्षक दफ्तर से पिछले साल 327 शिकायतें आई। इसके साथ-साथ 419 शिकायतें अदालत से आईं थी। 

बबीता चौधरी, जिला महिला संरक्षण अधिकारी, हिसार ने कहा कि हमारे कार्यालय में साल 2019 में महिला विरूद्ध अपराध की कुल 746 शिकायतें आई। कुल 57 शिकायतें पुलिस कार्रवाई से समाप्त हुई या दफ्तर दाखिल की गइ। बाकी शिकायतों का समाधान किया गया।


Edited By

vinod kumar

Related News