अनिल विज व जे पी नड्डा की है पुरानी दोस्ती, दोनो संघर्षशील व सेल्फ मेड नेता हैं

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 08:36 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी): स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दोस्ती कोई आज की नहीं है। जेपी नड्डा दुख सुख के पुराने साथियों में से एक हैं। जेपी नड्डा वर्तमान में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। जेपी नड्डा ने खुद से कहा कि उन्होंने अनिल विज को कहा था कि अब वह सरकार में नहीं है संगठन में मगर अनिल विज के सुदृढ़ विचारों को देखकर वह इनकार नहीं कर पाए तथा उन्होंने यहां आना स्वीकार किया। नड्डा व विज की दोस्ती भी किसी से छुपी नही है। दोनो संघर्षशील व सेल्फ मेड हैं

देश की राजनीति में जे पी नड्डा व हरियाणा के बीजेपी की राजनीति के दिग्गज व गृह मंत्री अनिल विज के राजनैतिक सितारे बहुत ज्यादा मिलते हैं। जब जब नड्डा के सितारे गर्दिश में होतें हैं तो विज के सितारे भी गर्दिश में होते हैं। जब जब नड्डा के सितारे बुलंदियों पर होतें हैं तो विज भी बुलंदियों पर होते हैं। अब देखिए जे पी नड्डा भजपा के अध्यक्ष हैं तो अनिल विज को हरियाणा में गृह व स्वास्थ्य मंत्री  है।

हिमाचल में नवम्बर 2017 में जे पी नड्डा के मुख्यमन्त्री बनने के संयोग धूमिल हो गए थे, तब विज के सितारे भी ढीले ही थे । चुनावों में मुख्यमंत्री पद के लिए प्रेम कुमार धूमल का नाम घोषित होने पर एक बात सामने आई है कि अनिल विज व जे पी नड्डा के स्टार समानान्तर ही चलतें हैं, जब वह हरियाणा युवा मोर्चा के अध्यक्ष थे तो जे पी नड्डा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे।

पिछली मनोहर सरकार में विज प्रदेश में स्वास्थ्य मंत्री रहे तो नड्डा केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री रहे। विज और नड्डा के यह अजब संयोग ही हैं कि वह हर बार मंजिल के करीब पहुंच दूर हो जातें हैं। लेकिन अब बीजेपी में शीर्ष नेतृत्व संभाल देश के शक्तिशाली व्यक्तियों में से एक हैं क्योंकि केंद्र में बीजेपी की सरकार है। हरियाणा में अनिल विज शक्तिशाली मंत्री बन गए हैं। जे पी नड्डा भी हिमाचल में बीजपी के शिखर के नेताओं में हैं ,इस बार मुख्यमंत्री की कुर्सी के करीब पहुंचे फिर से उन्हें दूर कर दिया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static