BJP नेता की हत्या मामले में JJP लीडर का भाई गिरफ्तार, चुनावी रंजिश के चलते रची थी साजिश

punjabkesari.in Thursday, Sep 29, 2022 - 03:43 PM (IST)

सोहना(सतीश कुमार): बीजेपी नेता एवं मार्किट कमेटी के पूर्व चेयरमैन सुखबीर उर्फ सुक्की की हत्या मामले में एसटीएफ ने जेजेपी नेता रोहताश खटाणा के छोटे भाई जोगिंदर को गिरफ्तार किया है। जोगिंदर पर बीजेपी नेता सुखबीर की हत्या की साजिश रचने का आरोप है। आरोपी को अदालत में पेश करने कर रिमांड पर लिया जाएगा, ताकि हत्या करने के असल कारणों का खुलासा हो सके। एसटीएफ पहले ही इस मामले में हत्या के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर चुकी है। मृतक के परिजनों का दावा है कि जजपा नेता से पूछताछ के बाद कई बड़े नाम सामने आएंगे।

 

PunjabKesari

 

एक महीने पहले सरेआम गोलियों से भूनकर की गई थी हत्या

 

गौरतलब है कि बीती एक सितंबर को सोहना मार्किट कमेटी के पूर्व वाइस चेयरमैन सुखबीर उर्फ सुक्की को बीच बाजार में दिनदहाड़े पांच नकाबपोश हथियारबंद हमलावरों ने गोलियों से भून कर छलनी कर दिया था। उस समय सुखबीर कपड़े खरीदने के लिए रेमंड शोरूम पर गया हुआ था। आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से हथियार लहराते हुए फरार हो गए थे। यह पूरी वारदात वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गई थी। पुलिस ने सीसीटीवी तस्वीरों व मृतक के परिजनों के बयान के आधार पर बीजेपी नेता के साले चमन सहित पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की थी। इस मामले में गुरुग्राम पुलिस ने पहले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया, जिनसे  पूछताछ में कोई खास खुलासा नहीं हो सका था। इसके बाद मुख्य आरोपी  की गिरफ्तारी नहीं होने पर मृतक के परिजनों गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर कार्यालय का घेराव किया था और हत्या में शामिल अन्य आरोपियों को पांच दिन के अंदर गिरफ्तार करने की मांग की थी। परिजनों की इस मांग के बाद इस मामले को एसटीएफ को ट्रांसफर कर दिया गया था। एसटीएफ ने ही हत्या के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया था।

 

PunjabKesari

 

मृतक के साले और मुख्य हत्यारे को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी एसटीएफ

 

इससे पहले स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा मृतक सुखबीर के सगे साले और मुख्य हत्यारोपी चमन उर्फ पवन की गिरफ्तारी भी की जा चुकी है। पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने सुखबीर की हत्या करने की वजह उसकी बहन के साथ मृतक द्वारा जबरन लव मैरिज करने को बताया था। वहीं एसटीएफ की जांच के दौरान मृतक के सगे साले और हत्या के मुख्य आरोपी चमन द्वारा चौकाने वाला खुलासा किया गया था। आईजी सतीश बालान ने बताया था कि मृतक के साले जोगिंदर ने चमन को 25 लाख रुपये नकदी व हथियार खरीदने के लिए तीन लाख रुपए दिए थे। इसके अलावा आरोपी ने यह भी खुलासा किया है कि जोगिंदर ने कई बार हत्यारोपी चमन के साथ गुप्त स्थानों पर मीटिंग की थी।

 

PunjabKesari

 

शुरू से ही चुनावी रंजिश में हत्या होने की बात कर रहे थे परिजन

 

मृतक के बेटे  अनुराग की मानें तो चुनावी रंजिश के चलते उनके पिता की हत्या कराई गई है। वहीं अब तक चुनावी रंजिश को लव मैरिज के साथ जोड़कर देखा जा रहा था। उन्होंने कहा कि हम पहले ही कह रहे थे कि यह लव मैरिज का मामला नहीं है। उन्होंने बताया कि विधानसभा चनावो में उनके पिता बीजेपी पार्टी के साथ थे, लेकिन आरोपी का भाई जेजेपी पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ रहा था। तभी से दोनों के बीच आपसी रंजिस चल रही थी। इसी वजह से प्लानिंग के तहत उनके पिता की हत्या कराई गई है। अनुराग ने कहा कि पुलिस द्वारा जेजेपी नेता के बेटे को गिरफ्तार करने के बाद इस मामले में कई बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे।

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Gourav Chouhan

Related News

Recommended News

static