किराए के मकान में चल रहा था देह व्यापार, तीन गिरफ्तार, चार युवतियां भी ली हिरासत में

2/12/2020 1:22:48 PM

पिपली (सुकरम) : थाना सदर पुलिस व महिला पुलिस की संयुक्त टीम ने सैक्टर-3 के एक मकान में चल रहे देह व्यापार के धंधे को रेड डालकर 3 युवकों और 4 युवतियों को काबू किया है। पुलिस मकान से काबू किए गए 3 युवकों से पूछताछ कर रही है कि वे देह व्यापार का धंधा कब से कर रहे हैं और इसके अलावा ऐसा धंधा कहीं ओर भी किया जा रहा है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है। 

पुलिस ने सभी आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत जिला कारागार भेज दिया। पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि सैक्टर-3 की एक मकान में अनैतिक देह व्यापार का धंधा चलाया जा रहा है। सूचना मिलने के बाद मकान पर रेड डालने के लिए पुलिस की टीम नियुक्त की गई। महिला थाना प्रभारी सुनीता, हवलदार ईशम सिंह के साथ थाना सदर प्रभारी जगदीश चंद को तैनात किया गया। 

पुलिस टीम सैक्टर-3 के जिंदल चौक पर तैनात थी कि इस दौरान सैक्टर-5 पुलिस चौकी प्रभारी महेंद्र सिंह, ए.एस.आई. रामप्रकाश हवलदार रणबीर सिंह, महिला मुख्य सिपाही रेनू व हवलदार सुशील कुमार वाहनों की जांच कर रहे थे। पुलिस को सूचना मिली कि सैक्टर-3 में करनाल निवासी हरीश कुमार पिछले 6-7 साल से मकान किराए पर लेकर बाहर से युवतियां लाकर अनैतिक देह व्यापार का धंधा करवा रहा है।  

आरोपी हरीश कुमार ने रायपुर रोडान निवासी प्रदीप को कार पर चालक रखा हुआ है। इसके अलावा मकान पर एक नेपाली युवक को कुक रखा हुआ है। पुलिस ने हवलदार ईशम सिंह को बोगस ग्राहक बनाकर और उसे 500-500 रुपए के 2 नोट देकर मकान पर भेजा। उपनिरीक्षक महेंद्र सिंह को शैडो गवाह तैयार किया गया। बोगस ग्राहक बनकर जब हवलदार ईशम सिंह ने मकान में जाकर हरीश से वेश्यावृत्ति के लिए युवती का सौदा तय करने की बात की और सौदा तय होने के बाद ईशम सिंह ने रेडिंग पार्टी को इशारा कर दिया। टीम को मकान के ड्राइंग रूम में 3 युवक बैठे मिले।

जब रेडिंग टीम ने उनसे पूछताछ कर तलाशी ली तो एक के पास से 5 हजार रुपए के नोट बरामद हुए जिनमें बोगस ग्राहक द्वारा दिए गए 500-500 के दोनों नोट भी थे। आरोपी युवकों से मोबाइल फोन और कई युवतियों के आधार कार्ड नंबर और मोबाइल नंबर मिले। जब रेडिंग टीम ने एक कमरे की जांच की तो कमरे में युवती व बोगस ग्राहक मिले। युवती ने बताया कि वह पंजाब के गुरदास पुर के बटाला गांव की रहने वाली है।

दूसरे कमरों की भी जब रेडिंग टीम ने तलाशी तो वहां से भी 3 युवतियां मिलीं जिन्होंने पुलिस को बताया कि वे दिल्ली, चंडीगढ़ व मुंबई की रहने वाली हैं। पुलिस के सामने युवतियों ने बताया कि आरोपी हरीश उन्हें फोन कर अनैतिक देह व्यापार के लिए बुलाता है और बदले में 15 हजार रुपए प्रति माह देता है। तीनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है। थाना सदर प्रभारी जगदीश चंद ने बताया कि मौके पर पिहोवा के डी.एस.पी. धीरज कुमार को जांच के लिए बुलाया गया था। पुलिस ने सभी आरोपियों को अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static