पिता के सामने की 30 वर्षीय बेटे गोली मारकर की हत्या

punjabkesari.in Friday, Sep 02, 2022 - 09:10 PM (IST)

गुड़गांव/ पटौदी, (ब्यूरो): भौड़ाकलां गांव में कंपनियों से स्क्रैप उठाने के विवाद में 30 वर्षीय इकलौते बेटे की बदमाशों ने पिता के सामने की निर्मम हत्या कर दी। आधा दर्जन बदमाशों ने एक के बाद एक कई राउंड फायरिंग की। पुलिस के अनुसार मृतक के सिर में गोलियां लगने के कारण उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि मृतक को आधा दर्जन के आसपास गोलियां लगी हैं। पुलिस ने इस संबंध में मृतक के पिता के बयान के आधार पर हत्या का मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है। हत्या की सूचना मिलने के बाद पूरे गांव में मातम का माहौल हैं और आरोपियों के खिलाफ गुस्सा है। मृतक और हत्यारोपी सभी एक ही मोहल्ले के रहने वाले थे तथा दोनों ही स्क्रैप का काम करते थे।

गुरुग्राम की खबरों के लिए इस लिंक https://www.facebook.com/KesariGurugram पर क्लिक करें।



सुमित चौहान आसपास कंपनियों से स्क्रैप उठाने का काम करता था। बीते कुछ समय में उसके पास कुछ बड़े आर्डर आ गए जिसके बाद स्क्रैप का काम करने वाले दूसरे लोगों ने उससे दुश्मनी बांध ली। वीरवार की देर रात 10:30 के आसपास जब सुमित चौहान अपने कार्यालय पर कर्मचारियों को खाना देकर वापस घर आ रहा था उसी समय घात लगाए बैठे बदमाशों ने उस पर गोलियां चलाई और उसकी हत्या कर दी। हत्या के संबंध में पुलिस ने मृतक के पिता दिनेश कुमार ने कहा है कि वह अपने बेटे के साथ ही मिलकर स्क्रैप का काम कर रहा था। उसके बेटे ने अपने व्यवहार के कारण अपना व्यापार अच्छे से बढ़ा लिया था। इसके कारण कुछ लोगों को इस बात की जलन रहने लगी थी। इस कारण से रंजिशन हत्या की साजिश रच डाली।



इन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज :

पुलिस ने दिनेश कुमार की शिकायत पर प्रहलाद उर्फ पिन्टू पुत्र जगबीर उर्फ कालू, जोगिन्द्र उर्फ कालू पुत्र नेत्रपाल, हरेंद्र उर्फ हन्नी पुत्र नेत्रपाल, मोहित पुत्र गणेश शर्मा, बिट्टू पुत्र गुरुदत्त शर्मा, अमित पुत्र मदन गोपाल उर्फ मुन्ना, भूपेंद्र उर्फ भोलू पुत्र जगबीर सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर किया है। ये बदमाश अलग-अलग तीन मोटर साइकिलों पर सवार होकर आये थे। इन सभी ने मिलकर मेरे बेटे सुमित कुमार को पीछे से गोली मार दी।

हत्या तक मारते रहे गोली :

पुलिस रपट के अनुसार जैसे ही सुमित को गोली लगी वह मोटरसाईकिल से गिर गया। उसके गिरने के बाद भी बदमाशों ने गोलियां चलानी बंद नहीं की। हत्यारों ने उसके सिर व चेहरे पर कई गोली के फायर किए। इसके बाद मृतक के पिता ने शोर मचाया और गोलियों की आवाज सुनकर जैसे ही लोग एकि त्रत हुए हत्यारोपी भाग गए। सुमित को उसी समय परिवार वालों की मदद से मेदांता अस्पताल गुरुग्राम इलाज के लिए लेकर गए लेकिन डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। सुमित को पांच गोलियां लगी जिसमें से 2 उसके सिर में लगी बताई जाती हैं।

पकड़ में दो आरोपी :

सूत्रों की मानें तो आरोपियों में से दो को पकड़ लिया गया है लेकिन अभी तक इस संबंध में आधिकारिक रूप से ठोस जानकारी नहीं मिल पाई है। वैसे पुलिस हत्यारोपियों को पकडऩे के लिए दबिश लगा रही है। जल्द ही मामले में अन्यों की गिर तारी हो सकती है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के लिए शव को मोर्चरी में भिजवा दिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pawan Kumar Sethi

Related News

Recommended News

static