डॉक्टरों ने दी है 10 दिन आराम की सलाह, मुख्यमंत्री मनोहर लाल दो दिनों से निभा रहे हैं राजधर्म

9/16/2020 7:37:34 PM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कोरोना से ठीक होते ही मोर्चा पूरी तरह संभाल लिया है। आज उन्होंने अनौपचारिक रूप से मंत्री समूह की बैठक भी की। सेनापति के रूप में मुख्यमंत्री मनोहरलाल के मैदान में सक्रिय होने से कोरोना के प्रभाव में चल रही सेना रूपी मंत्रिमंडल व विधायको में भी विशेष उत्साह का संचार देखा जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सक्रियता से आभास होता है कि आने वाले दिनों में हरियाणा के अंदर तीन सप्ताह से शिथिल पड़ी राजनीतिक गतिविधियों में अब तीव्रता आनी स्वाभाविक है।

लगातार दो दिन से वह सक्रिय हैं। मुख्यमंत्री 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 70वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आयोजित ‘युवा प्रेरणा दिवस’ कार्यक्रम में मुख्य अतिथि होंगे। जिसका आयोजन ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान को सफल बनाने के उद्देश्य से किया जा रहा है।

समय की कुशल मैनेजमेंट उनकी मंगलवार व बुधवार की वर्किंग में झलकी। जहां आला अधिकारियों से प्रत्यक्ष रूप से तीन सप्ताह के बाद सभी विभागों की गतिविधियों की जानकरियां ली। मुख्यमंत्री मनोहर लाल मेदांता में उपचार के दौरान भी अधिकारियों से फोन के माध्यम से लगातार संपर्क में थे। वहीं विधायकों व मंत्रियों से भी कोरोना काल को लेकर चल रही गतिविधियों, धान की खरीद, विपक्ष की गतिविधियों व अन्य सभी ज्वलन्त मुद्दों पर चर्चा की। 

मुख्यमंत्री के समय प्रबंधन का इससे पता लगता है कि विधायक, मंत्री उनका कुशलक्षेम पूछने आएंगे, इसलिए शाम को साढ़े 6 बजे से 7 बजे तक दोनों दिन व बुधवार दोपहर बाद मंत्री समूह की मीटिंग रख ली। जो विधायक व मंत्री चंडीगड़ में उपस्थित हैं खुद ही एक साथ बुला लिए। मुख्यमंत्री मनोहर ने मंगलवार 2 महत्वपूर्ण मीटिंगे ली। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री 14 अक्तुबर को ही ठीक होकर चंडीगढ़ लौटे हैं। डॉक्टर्स ने अभी उन्हें आराम की सलाह दी है की वह इस मामले में कोई लापरवाही न करें। लेकिन मुख्यमंत्री ने अपने राजधर्म को निभाते हुए मंगलवार को दो महत्वपूर्ण मीटिंग्स की। यह सिलसिला बुधवार भी जारी रहा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सभी मीटिंग में जहां डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा गया। वहीं मास्क भी सभी ने लगा रखे थे। कोरोना को लेकर चर्चा में मुख्यमंत्री ने सभी से कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग व सभी नियमों को अपनाते हुए हम कोरोना से लड़ सकतें हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आने वाले दिनों में कोरोना को लेकर लोगों को मिल रही सुविधाओं की समीक्षा भी की तथा प्रशाशन को हिदायतें भी दी कि कोरोना पीड़ित किसी भी व्यक्ति को कोई भी दिक्कत न हो का विशेष ध्यान रखा जाए।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मंत्री समूह के सदस्यों को भी 3 अध्यादेश पर जनता व किसानों के मध्य जाकर विस्तृत रूप से जनता में जाकर विपक्ष के फैलाए जा रहे भ्रम को दूर करने की बात की। सूचनाओं के अनुसार बरोदा उप चुनाव की राजनीतिक चर्चा भी आज हुई। मनोहर लाल द्वारा मंत्री समूह को इस संबंध में विपक्ष के दुष्प्रचार का पलटवार करने पर भी चर्चा हुई। सरकार की कल्याण कारी नीतियों को जनता तक पहुंचाने पर भी चर्चा हुई।

सीएम कोरोना से उभरने के बाद फिर से पूर्ण उत्साह के साथ सक्रिय हो चुके हैं। विपक्षी नेतायों के द्वारा जिन मुद्दों को आधार बनाने की कोशिश की जा रही है। उन सब पर सीएम की नजर है। सीएम खुद भी आने वाले समय मे सार्वजनिक तौर पर जहां इन सब बातों के जवाब देंगेष वहीं उन्होंने अपनी पूरी टीम को दो दिनों में वार्म अप किया है। खरीफ की फसल की खरीद को लेकर पूरी नीति सरकार बना चुकी है। मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकृत प्रत्येक किसान को अपनी उपज को मंडी में लाने के लिए उसकी सुविधानुसार संभावित तिथियों को इंगित करने के लिए कहा जाए। 

आने वाले दिनों में सरकार के रोड मैप में परिवार पहचान पत्र को एचआरएमएस के साथ जोड़ने, पिंजौर में फिल्म सिटी विकसित करने की योजना तैयार करने, संपत्ति संबंधी कार्यों में लोगों की सुविधा के लिए राज्य के सभी शहरी स्थानीय निकायों में संपत्ति आईडी तैयार करने के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं अवसंरचना विकास निगम (एचएसआईआईडीसी) और हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) के कार्यों की भी समीक्षा की और इनके राजस्व (प्राप्तियों) को और बढ़ाने जैसे कार्य रहेंगे।


vinod kumar

Related News