फैक्ट्री में कॉपर केबल व स्क्रैप चोरी का मामला : सुपरवाइजर सहित चोरों आरोपियों को किया गिरफ्तार

6/29/2020 3:30:18 PM

समालखा : गांव पट्टीकल्याण में स्थित नैस्ले फैक्ट्री में कोपर केवल व स्क्रैप चोरी करने के मामले में पुलिस ने सुपरवाइजर सहित 4 आरोपियों को काबू कर अदालत में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत भेजा गया। पुलिस के मुताबिक मास्टरमांइड आरोपी जगबीर नैस्ले कंपनी में पिछले दस साल से सुपरवाइजर के पद पर तैनात था। जबकि तीन अन्य आरोपी ठेकेदार के माध्यम से कंपनी में मजदूरी करते थे। शार्ट कट तरीके से पैसे कमाने की चाहत में आरोपियों ने घटना को अंजाम दिया। 

मिली जानकारी के अनुसार सी.आई.ए.-2 प्रभारी के मुताबिक शनिवार शाम के समय  सी.आई.ए.-2 के एस.आई. के नेतृत्व  में टीम थाना इसराना के क्षेत्र में गश्त कर रही थी। इस दौरान टीम को गुप्त सूचना मिली कि पिछले दिनों नैस्ले फैक्ट्री में चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी सुनील वासी गवालड़ा अपने साथियों के साथ गांव में घूम रहा है।   सूचना मिलते ही टीम ने  मौके पर दबिश देकर आरोपियों को काबू कर प्रारंभिक पूछताछ की, तो उन्होंने अपने नाम जगबीर, सुनील, दीपक व देवेंद्र वासी गवालड़ा बताया। गहनता से पूछताछ करने पर आरोपियों ने 25 जून की रात को नैस्ले फैक्ट्री के प्रोजेक्ट यार्ड से कोपर के बल व स्कैप चोरी का वारदात को अंजाम देने की बात कबूली।  

पुलिस पूछताछ में ये भी सामने आया कि शार्ट कट तरीके से पैसे कमाने के लिए आरोपियों ने योजना बनाकर फैक्ट्री से चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इंचार्ज ने बताया कि गिरोह का मास्टर माइंड गिरफ्तार आरोपी जगबीर वासी गवालड़ा पिछले करीब 10 साल से फैक्ट्री में नौकरी कर रहा था। वर्तमान में वह सुपरवाइजर के पद पर तैनात था।  उन्होंने बताया कि गांव पट्टीकल्याण वासी रविंद्र ने थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसने नैस्ले फैक्ट्री में सिविल काम के लिए ठेका लिया हुआ है। उसके पास साईट पर 20 व्यक्ति काम करते है।        

25 जून को फैक्ट्री के अंदर पाईप डालने का काम कर रहे थे। शाम साढ़े 6 बजे काम कर रहे मजदूर छुट्टी कर वापिस चले गए। मजदूर के रुप में काम करने वाला सुनील वासी गवालड़ा देर रात अपने कई साथियों से मिलकर फैक्ट्री की दीवार फांद अंदर घुसकर प्रोजैक्ट वार्ड से तांबे की स्कैप व कोपर केवल चोरी कर बाईक रिक्शा में डालकर जा रहा था।  फैक्ट्री में काम कर रहे सुपरवाइजर सुनील ने उन्हें देख लिया व आरोपी सुनील के पहचान लिया। आरोपी चोरी किए गए सामान सहित बाईक रिक्शा मौके पर छोड़कर फरार हो गए। इंचार्ज ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी जगबीर, सुनील, दीपक व देवेंद्र वासी गवालड़ा को आज अदालत में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत भेजा गया। 


Edited By

Manisha rana

Related News