किसानों ने कर रखी थी काले झंडे दिखाने की तैयारी, सुभाष बराला ने रद्द कर दिया कार्यक्रम

punjabkesari.in Saturday, Oct 17, 2020 - 05:11 PM (IST)

टोहाना (सुशील सिंगला): भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला के हरियाणा सार्वजनिक ब्यूरो का चेयरमैन बनने पर अभिनंदन समारोह के तहत जगह-जगह स्वागत का कार्यक्रम था। इसी कार्यक्रम के समानांतर 3 कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने भी सुभाष बराला को काले झंडे दिखाकर विरोध करने की घोषणा कर रखी थी। अचानक दोपहर के समय घटनाक्रम बदला व सूचना मिली कि सुभाष बराला का अभिनंदन कार्यक्रम रद्द हो गया है। सुभाष बराला ने इसका कारण जाखल में नगर पालिका चेयरमैन सीमा गोयल के ससुर की आत्महत्या मामले में शोक को बताया।

स्वागत कार्यक्रम को लेकर टोहाना में काफी गहमागहमी का माहौल रहा। जहां पूरे शहर को भाजपा के झंडे व सुभाष बराला के कट आउट से सजाया गया। वहीं निर्धारित समय पर किसान संगठन के सदस्य भी टोहाना के गोगामेडी सभा स्थल पर जमने शुरु हो गए। दोपहर होते-होते सभा पर एकत्रित हुए किसान आक्रोशित होकर सड़क पर निकल पड़े।

हिसार-चंडीगढ़ रोड पर स्थित शहीद चौक पर पहुंचकर किसानों ने भाजपा के झंडे व पोस्टरों को आग लगा दी। इसके साथ ही उन्होंने यहां से गुजर रहे भाजपा कार्यकर्ता के काफिले को भी काले झंडे दिखाते हुए अपना विरोध जताया। इस मौके पर किसान संगठन के नेता जगतार सिंह ने बताया कि किसानों के विरोध को देखते हुए सुभाष बराला अपना कार्यक्रम रद्द कर गए हैं। उन्होंने कहा कि उनके संगठन के द्वारा यह विरोध जारी रहेगा। उन्होंने यह भी बताया कि दशहरे के त्यौहार पर जगह जगह सरकार के पुतले जलाए जाएंगे।

वहीं सुभाष बराला ने किसानों के विरोध पर पूछे गए सवाल पर कहा कि वह खुद भी किसान हैं। ार्यक्रम को उन्होंने इस वजह से रद्द किए हैं क्योंकि जाखल में चेयरमैन के ससुर के साथ दुखगन्त हुआ है। इसी वजह से उनके द्वारा प्रोग्राम रद्द किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Shivam

Related News

Recommended News

static