कृषि कानूनों के खिलाफ डटे किसान, आंदोलन में शामिल होने के लिए रादौर से  जत्था रवाना

punjabkesari.in Sunday, Jun 20, 2021 - 12:53 PM (IST)

रादौर(कुलदीप सैनी):  कोरोना की दूसरी लहर का असर कुछ कम होने के बाद एक बार फिर किसान संगठनों ने तीन कृषि कानूनों को लेकर आंदोलन तेज करना शुरू कर दिया है। इसी में कड़ी में रविवार को सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन में शामिल होने के लिए रादौर के पुराने बस अड्डे से अखिल भारतीय किसान सभा से जुड़े किसानो का एक जत्था रवाना हुआ। रवानगी से पूर्व किसानों ने सभा के जिला प्रधान जरनैल सिंह सांगवान के नेतृत्व में सरकार विरोधी जमकर नारेबाजी की।

इस अवसर पर अखिल भारतीय किसान सभा के जिला प्रधान जरनैल सिंह सांगवान ने कहा भाजपा सरकार को चेताते हुए कहा कि सरकार आंदोलन को कमजोर करने के लाख प्रयास कर ले, लेकिन किसान व मजदूर अपनी फसल व नस्ल को बचाने के लिए आंदोलन से पीछे हटने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि तीनों काले कानून किसानों के हित में नहीं है, और जब एमएसपी पर खरीद की गारंटी नहीं दी जाती और इन काले कानूनों को सरकार वापिस नहीं लेती तब तक किसानों का आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा जब तक काले कानूनों को वापिस नहीं लिया जाता, तब तक भाजपा के किसी नेता, मंत्री व विधायक का कार्यक्रम नहीं होने दिया जाएगा और ऐसा यमुनानगर के किसानों ने करके दिखा भी दिया है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static