किसान नेता गुरनाम का दावा- आगे किसानों का गुस्सा लड़ाई बदलेगा फिर पूरे देश में होगा एक जैसा...

9/20/2020 5:04:49 PM

यमुनानगर (सुरेंद्र मेहता): आज पूरे हरियाणा में किसानों ने कृषि अध्यादेशों के विरोध में सरकार को आंख दिखा दी है। यमुनानगर में टोल प्लाजा पर किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी के नेतृत्व में चंडीगढ़ हरिद्वार नेशनल हाईवे जाम किया गया। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा, लेकिन आंदोलनकारियों को हटाने का प्रयास नहीं किया। किसानों ने सरकार विरोधी नारेबाजी की। 12 बजे से 3 बजे तक के इस आंदोलन में हजारों की संख्या में किसान टोल प्लाजा पर पहुंचे। 

PunjabKesari, Haryana

इसी दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि अध्यादेश को कानून का रूप देकर ऐसा ढांचा खड़ा किया जा रहा है, जिससे खाद्य सामग्री को कुछ लोग खरीदेंगे और फिर पूरे देश में बेचेंगे। उन्होंने कहा कि यह लोग कम से कम दाम में खरीदकर अधिक से अधिक में बेचेंगे। इसी को लेकर किसानों में भारी गुस्सा है और यह गुस्सा अभी सरकार को दिखाया जा रहा है। बाद में यह गुस्सा लड़ाई में बदलेगा, फिर चाहे सरकार लाठी मारे, गोली मारे फिर सरकार से यह संभालने वाला नहीं है। भविष्य की रणनीति को लेकर उन्होंने कहा कि पूरे देश के किसानों को एक मंच पर इकट्ठा करके देश भर में एक जैसा आंदोलन चलाया जाएगा। 

वहीं किसानों के विरोध के पीछे कांग्रेस का हाथ होने के आरोपों को चढूनी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि कांग्रेसियों, आढ़तियों से किसानों ने कोई पैसा नहीं लिया है, किसान अपना पैसा जमा करके आंदोलन चला रहे हैं। उन्होंने कहा हरियाणा में 17 संगठन काम कर रहे हैं क्या यह सभी कांग्रेसी हैं?

उन्होंने कहा कि यह जनता का मुद्दा है किसानों को बर्बादी होती नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि हम जहां इसके नुकसान बता रहे हैं वहीं सरकार इसके फायदे बताने में लगी हुई है। उन्होंने सरकार को सवाल किया कि अगर एमएसपी नहीं टूटेगी तो मक्की की एमएसपी 1760 थी, वह 1100 में क्यों बिक रही है और मूंगफली 3800 में क्यों बिक रही है?


Shivam

Related News