प्यासे को पानी पिलाना बना गुनाह

punjabkesari.in Sunday, May 29, 2022 - 08:35 AM (IST)

गुड़गांव, (पवन कुमार सेठी) : अब तक प्यासे को पानी पिलाना पुण्य का काम माना जाता था, लेकिन कुछ लोगों के लिए यह गुनाह हो गया। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं कि एक प्यासे को पानी पिलाने के चक्कर में एक दुकानदार नकदी व मोबाइल गवां बैठा। दुकानदार ने आरोपी को पकड़ने का भी प्रयास किया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। सिटी थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

पुलिस के मुताबिक, तेजराज कौशिक की रेलवे रोड पर जैन मंदिर के नजदीक वंदना टावल के नाम से दुकान है। शनिवार दोपहर को वह अपनी दुकान पर बैठे हुए थे। इस दौरान युवक ने तेजराम से पानी पीने के लिए मांगा। तेजराम ने पास ही रखे मयूर जग की तरफ इशारा करते हुए वहां से पानी पीने के लिए कहा। इस पर युवक ने गिलास की मांग तेजराम से की। आरोप है कि तेजराम जैसे ही युवक को गिलास देने के लिए घूमा वैसे ही युवक ने तेजराम का बैग उठा लिया और भागने लगा। इस पर तेजराम ने उसे पकड़ लिया, लेकिन युवक ने उसे झटका मारा और खुद को छुड़ा लिया और फरार हो गया। उसने पुलिस को बताया कि बैग में करीब 50 हजार रुपए का चेक, साढ़े चार हजार रुपए नकद, एक मोबाइल, दवाएं व जरूरी दस्तावेज थे। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और युवक की तलाश शुरू कर दी, लेकिन उसका कुछ पता नहीं लगा। सिटी थाना पुलिस का कहना है कि शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर लिया गया है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pawan Kumar Sethi

Related News

Recommended News

static