नेताओं को महिलाओं पर विवादित बयान देने से गुरेज करना चाहिए : शैलजा

punjabkesari.in Friday, Apr 02, 2021 - 08:14 AM (IST)

चंडीगढ़ : हरियाणा कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कु.शैलजा ने कहा कि भाजपा व आर.एस.एस. के बड़े-बड़े नेता महिलाओं के विरुद्ध अभद्र और विवादित बयान देते रहते हैं, जिससे उनकी महिलाओं के प्रति ओछी मानसिकता का पता चलता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं का पहनावा कैसा होना चाहिए, उन्हें क्या खाना-पीना चाहिए यह हम महिलाएं तय करेंगी न कि भाजपा अथवा आर.एस.एस. वाले।

उन्होंने कहा कि इन तथाकथित नेताओं को महिलाओं पर विवादित बयान देने से गुरेज करना चाहिए और महिलाओं का सम्मान करना चाहिए। वह आज पार्टी प्रदेश कार्यालय में महिला कांग्रेस पदाधिकारियों को संबोधित कर रही थी। बैठक का आयोजन हरियाणा प्रदेश महिला कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्षा सुधा भारद्वाज ने किया। शैलजा ने ऐलान किया कि जल्द ही प्रदेश में महिलाओं का एक बड़ा सम्मेलन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त विशेष प्रशिक्षण शिविरों का भी आयोजन करके महिलाओं को सोशल मीडिया से जुडऩे के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। 

प्रदेश में महिलाओं की स्थिति दयनीय
शैलजा ने कहा कि भाजपा द्वारा बिना किसी तैयारी के आनन-फानन में लगाए गए लॉकडाऊन में घरेलू हिंसा के मामलों में बेतहाशा वृद्धि होने के कारण महिलाओं की स्थिति और भी दयनीय हो गई थी और इसकी पुष्टि राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी की है। इस पर संज्ञान लेते हुए मैंने स्वयं हर जिले में अधिवक्ताओं की कमेटी का गठन किया था ताकि पीड़ित महिलाओं को हरसंभव सहायता व न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि एन.सी.आर.बी. के वर्ष 2017 के आंकड़ों के अनुसार हरियाणा में महिलाओं के विरुद्ध 11,370 अपराध हुए थे, जो वर्ष 2018 में बढ़कर 14,326 व वर्ष 2019 में बढ़कर 14,683 हो गए।

यानी कि हरियाणा में महिलाओं के खिलाफ रोजाना 40 अपराध हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में 1099 रेप के मामले दर्ज हुए थे जो वर्ष 2018 में बढ़कर 1296 और वर्ष 2019 में 1480 हो गए। वर्ष 2019 में हरियाणा में गैंगरेप के 159 मामले दर्ज हुए जिनमें हरियाणा प्रदेश का स्थान पूरे देश में दूसरा है। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static