RSS प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ Whatsapp पर हो रहा दुष्प्रचार, मामला दर्ज

1/19/2020 11:56:23 PM

पंचकूला (उमंग): राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ दुष्प्रचार भरा मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल होने पर पुलिस ने इस मामले में मामला दर्ज कर लिया है। यह एफआईआर पंचकूला के सेक्टर 10 पुलिस चौकी में पंचकूला के एक आरएसएस कार्यकर्ता ईश्वर जिंदल की शिकायत पर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ दर्ज की गई है, जिसमें पुलिस ने धारा 153ए, 153बी, 295ए, 504 लगाई हैं।

मैसेज में नए संविधान का दावा
शिकायत में ईश्वर जिंदल ने बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक को बदनाम करने की नियत से व्हाट्सअप पर मैसेज वायरल किया जा रहा था, जिसके साथ में मोहन भागवत की फोटो भी लगाई गई है। उन्होंने इस वायरल मैसेज के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मोहन भागवत ने एक नया संविधान बनाया है, जो केवल हिंदू धर्म पर ही आधारित होगा क्योंकि भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर दिया गया है। नागरिकता का अधिकार धर्म ही होगा व सरकारी नौकरियां भी जाति के आधार पर दी जाएंगी।

व्हाट्सएप की ली जाएगी मदद
जिंदल ने बताया कि ऐसी कई मनगढ़ंत बातें वायरल मैसेज में मौजूद हैं। वहीं पुलिस ने मैसेज वायरल करने वालों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने कहा कि जांच में व्हाट्सएप्प की भी मदद ली जाएगी।

अगर आप भी करते हैं वायरल मैसेज फारवर्ड तो रहना होगा सावधान
इस मामले को लेकर हर सोशल मीडिया यूजर को सीख लेनी चाहिए कि वह किसी भी वायरल मैसेज को फारवर्ड करने से पहले उसकी पड़ताल जरूर करें, ताकि भविष्य में किसी परेशानी का सामना करना पड़े। बता दें कि सोशल मीडिया में किसी के खिलाफ किसी भी तरह का दुष्प्रचार करना अपराध की की श्रेणी में आता है। ऐसे मामलों में दोषी पाए जाने पर कड़ी सजा मिल सकती हैं। इसलिए सावधान रहें सतर्क रहें।


Shivam

Related News