बड़ी खबर: CM सुरक्षा में सेंधमारी और हुड्डा से दुर्व्यवहार के आरोपी पुलिसकर्मियों को नोटिस जारी

9/21/2021 8:10:55 PM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा विधानसभा की सबसे शक्तिशाली कमेटी प्रिविलेज कमेटी एक्शन मोड में है। प्रिविलेज कमेटी ने दो अहम मामलों में गंभीरता से संज्ञान लेते हुए यह नोटिस जारी किए हैं। वहीं रिप्लाई आने के बाद आगामी एक्शन हो सकते हैं। एक मामला हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सुरक्षा में सेंधमारी का है जिसमें हरियाणा पुलिस के आला अधिकारियों की रिपोर्ट पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता सवालिया निशान खड़ा कर चुके हैं। दूसरा मामला पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ प्रदर्शन के दौरान एक इंस्पेक्टर द्वारा बदसलूकी किए जाने का है।

कांग्रेस के विधायक शमशेर सिंह गोगी जो विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा बनाई गई प्रिविलेज कमेटी के 20 सदस्य हैं उन्होंने एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया की हरियाणा के मुख्यमंत्री की सुरक्षा के अंदर सेंध के मामले में विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता जो असंतुष्ट थे उन्होंने यह मामला प्रिविलेज कमेटी के पास भेजा था। प्रिविलेज कमेटी ने इस मसले को गंभीरता से लिया है। एसीएस होम व डीजीपी हरियाणा को नोटिस जारी कर 15 दिनों में पूर्ण तथ्यात्मक रिपोर्ट सबमिट करने को कहा है।

गौरतलब है कि विधानसभा सत्र के दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रैस ब्रीफिंग के लिए विधानसभा के नीचे परिसर में मीडिया को संबोधित करने के लिए गए थे। तब वहां अकाली दल के विधायकों ने नारेबाजी के साथ-साथ मुख्यमंत्री पर हमला करने का प्रयास किया। इस मुद्दे पर चंडीगढ़ पुलिस में भी मुकदमा दर्ज है। हरियाणा के पूर्व डीजीपी मनोज यादव इस मामले में दो बार अपनी रिपोर्ट सबमिट कर चुके हैं। उस रिपोर्ट को लेकर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता अपनी नाराजगी खुले रुप से जाहिर कर चुके हैं। ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा था कि डीजीपी द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट में मौके पर ड्यूटी पर तैनात कुछ अधिकारियों को बचाने की कोशिश की जा रही है। इसके अलावा ज्ञान चंद गुप्ता ने अन्य कई प्रश्नचिन्ह भी मनोज यादव की रिपोर्ट पर लगाए थे। 

इसके बाद उन्होंने यह मामला प्रिविलेज कमिटी हरियाणा के पास भेज दिया था। प्रिविलेज कमेटी विधानसभा हरियाणा ने ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा उठाए गए सवालों पर गौर किया है और इसे गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है। कांग्रेस के विधायक शमशेर सिंह गोगी का कहना है कि भविष्य में इन चीजों की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए जो उचित होगा प्रिविलेज कमेटी निर्णय लेगी।

शमशेर सिंह गोगी ने बताया कि प्रिविलेज कमेटी के पास नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा जब मॉनसून सत्र के दौरान पैदल प्रदर्शन करते हुए विधायकों के साथ आ रहे थे तब चंडीगढ़ पुलिस के कर्मियों के द्वारा दुर्व्यवहार करने का मामला भी आया है। योगी ने बताया कि हुड्डा के साथ दुर्व्यवहार करने वाले पुलिस इंस्पेक्टर तथा अन्य कर्मचारियों को भी नोटिस जारी कर दिया गया है तथा लिखित रूप से जवाब उनसे मांगा गया है कि उन्होंने हुड्डा के साथ दुर्व्यवहार किसके इशारे पर किया है। गोगी का कहना है कि जवाब आने के बाद प्रिविलेज कमिटी सारे मामले का अध्ययन करने के बाद अपना निर्णय सुनाएगी। 

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Recommended News

static