रेवाडी़: अब निजी अस्पतालों में नहीं वसूले जाएंगे अधिक पैसे, बाहर लगाई गई रेट लिस्ट

5/7/2021 4:16:54 PM

नारनौल (योगेंद्र सिंह) : कोरोना काल में कई अस्पताल संचालक दोनों लोगों का फायदा उठाने में पीछे नहीं रह रहे। ऐसा ही नारनौल में कई अस्पताल संचालक कोरोना मरीजों की जमकर जेब काट रहे थे। मीडिया ने जब मामला उठाया तो प्रशासन भी नींद से जागा और इसी का परिणाम है कि अब कई हॉस्पिटल संचालकों ने अपने यहां रेट लिस्ट चस्पा करवा दी है।

कोरोना पेशेंट से बीस से तीस हजार रुपए वसूले जा रहे थे। मरीजों के परिजन कैसे भी उनकी जान बचाने के लिए पैसे का इंतजाम कर रहे थे। मीडिया के सामने जब यह मामला आया तो उसने अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन किया और इस प्रकार के हॉस्पिटलों के खिलाफ मोर्चा खोला। शायद इसी का परिणाम है कि नींद के आगोश में सो रहे जिला प्रशासन के अधिकारियों की भी नींद खुली। 


PunjabKesari

प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के सख्त निर्देश के बाद कई हॉस्पिटल संचालाक को मानवता याद आई और उन्होंने आनन-फानन में अपने हॉस्पिटल में रेट लिस्ट चस्पा कर दी। देर आए दुरस्त आए की तर्ज ही सही व्यवस्था में सुधार हुआ तो मरीजों एवं उनके परिजनों के चेहरे खिल उठे। उम्मीद है कि प्रशासन आगे भी इस महामारी में कालाबाजारी एवं अधिक रेट वसूलने वालों के खिलाफ भी जल्द ही सख्त रूख अख्तियार करेगा।


(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static