सट्टेबाज़ों के कारण युवक ने दी जान, तीन बहनों का इकलौता भाई था मृतक

2021-06-16T12:37:22.777

भिवानी(अशोक): भिवानी में सट्टेबाज़ों ने एक नाबालिग युवक को अपने चंगुल में फँसा कर चार लाख रूपए की देनदारा चढ़ा दी। पैसे ना होने पर नाबालिग युवक ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी।  मृतक के पिता सुरेश ने  सीएम व पीएम से अपने बेटे की मौत के ज़िम्मेवार लोगो के ख़िलाफ़ कार्यवाई की मांग कर रहा है।

दरअसल सुरेश का 17 साल का नाबालिग बेटा सटेबाजों के चंगुल में ऐसा फँसा की उसने पढ़ने लिखने और कुछ बनने की उम्र मे ही आत्महत्या कर ली। बताया जाता है कि पियुश सरदाना को सट्टेबाज़ों ने अपने चंगुल में फँसा लिया। देखते ही देखते चंद दिनों में उसे सट्टे लगवा लगवा कर चार लाख रू का क़र्ज़दार बना दिया। पियुश के पास एक चवन्नी नहीं थी और उसका बाप अंडे की रेहडी लगाता है। ऐसे में सट्टेबाज़ों का दबाव था कि चार लाख रू मंगलवार को देने हैं। ऐसे में डर के मारे पियुश ने रेल के निचे आकर जान दे दी। मृतक के पिता अब सीएम व पीएम से अपने बेटे के लिए हाथ जोड़कर व रो रो कर न्याय माँग रहा है। 

वहीं मामले की सूचना पाकर जीआरपी पुलिस मौक़े पर पहुँची और नाबालिग का शव क़ब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए चौधरी बंसीलाल नागरिक अस्पताल लाया गया। मामले की जाँच कर रहे एसआई धर्मबीर सिंह ने कहा कि अभी परिजनों के बयान नहीं मिले हैं। उन्होने कहा कि परिजन जो शिकायत देंगे उसी आधार पर आगामी कार्यवाही की जाएगा। 

 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Recommended News

static