पुलिस अधीक्षकों के तबादले में ‘पावर’ दिखाएंगे विज, सहमति से ही तैयार की जाएगी सूची

punjabkesari.in Saturday, Jan 04, 2020 - 11:15 AM (IST)

डेस्कः खट्टर सरकार पार्ट टू में पुलिस अफसरों की पहली तबादला सूची को लेकर मचे घमासान के बाद अब पुलिस अधीक्षकों के तबादले में गृह मंत्री अनिल विज का जलवा दिखाई देगा। पार्टी हाईकमान के हस्तक्षेप के बाद अब यह तय हो गया है कि अगली सूची विज की सहमति से ही तैयार की जाएगी। हाईकमान की ओर से यह कहा गया है कि भले ही मुख्यमंत्री कार्यालय अहम है लेकिन गृह विभाग में अफसरों की तैनाती करते समय गृह मंत्री की सिफारिशों को तवज्जो दिया जाए। वहीं विज भी यह चाहते हैं कि जिलों में जिन अफसरों को तैनात किया जाए उनमें ईमानदारी और मेहनत से काम करने क्षमता होनी चाहिए। गृह मंत्री ने मौजूदा पुलिस अधीक्षकों की कुंडली भी तैयार की है जिसके तहत अगली तबादला सूची में उन्हें स्थान मिल सकता है। 

मंत्री की ओर से मौजूदा समय में खासकर जिला पुलिस अधीक्षकों के पद पर तैनात अफसरों के कामों का लेखा-जोखा तैयार किया गया है। इसके अलावा ऐसे कई अफसरों का भी रिकार्ड मांगा गया है जो किन्हीं कारणों से लंबे समय से खुड्डेलाइन चल रहे हैं।  विज के पास यह रिपोर्ट पहुंच चुकी है। प्रदेश में नई सरकार बने हुए दो महीने से ज्यादा का समय हो गया है लेकिन अभी तक पुलिस अधीक्षकों के तबादले नहीं हो सके हैं। जबकि पूर्व की सरकारों में सरकार के गठन के सप्ताह भर में ही पुराने अफसरों को इधर-उधर किया जाता रहा है। इसकी खास वजह गृह विभाग का जिम्मा अनिल विज को मिलना रहा है।  सूत्रों की माने तो एक सप्ताह पहले ही आई.ए.एस. अफसरों के साथ ही पुलिस अधीक्षकों की सूची भी तैयार कर ली गई थी लेकिन विवादों के कारण उसे जारी नहीं किया गया था। फिलहाल अब मुख्यमंत्री और अनिल विज के बीच सहमति बन गई है और पुलिस अफसरों की अगली तबादला सूची में विज की पसंद दिखाई दे सकती है।

तबादलों को लेकर दोनों दरबारों में हाजिरी लगा रहे हैं अफसर
जल्द तबादलों की सुगबुगाहट को लेकर अधिकांश पुलिस अफसर मुख्यमंत्री और गृह मंत्री दोनों दरबारों में हाजिरी लगा रहे हैं। माना जा रहा है कि इस विवाद के बाद अब पुलिस अफसर यह भांप चुके हैं कि अगली सूची में मुख्यमंत्री के अलावा गृह मंत्री अनिल विज की भी सहमति चलेगी ऐसे में ज्यादातर अफसर नए वर्ष की शुभकामनाएं देने के बहाने विज दरबार में भी हाजिरी लगाते दिखाई दिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static