राज्यसभा चुनाव में वोट बिकने का आरोप, अभय चौटाला बोले- कुछ विधायकों ने पैसे लेकर किया वोट

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 03:16 PM (IST)

सिरसा(सतनाम): इनेलो विधायक अभय चौटाला ने हाल ही में हरियाणा की दो राज्यसभा सीटों के लिए हुए चुनाव में वोट खरीदने को लेकर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में कुछ विधायकों ने पैसे लेकर वोट दिए हैं। यही नहीं उन्होंने इस बात का सबूत होने की बात भी कही। अभय चौटाला ने कहा कि वे प्रधानमंत्री मोदी, मुख्यमंत्री मनोहर लाल और ईडी को पत्र लिख कर कार्रवाई की अपील करेंगे।

अभय चौटाला आज सिरसा में अपने निवास पर मीडिया से बातचीत कर रहे थे। चौटाला ने कहा की मेरे पास सबूत आ गए है की कुछ विधायकों ने  पैसे लेकर राज्यसभा चुनावों में वोट दिया था। उन्होंने कहा कि वे ईडी से मांग करेंगे कि उन विधायकों पर कार्रवाई हो, जिन्होंने पैसे लेकर वोट दिए है। हालांकि अभी अभय चौटाला ने उन विधायकों का नाम नहीं बताया है। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही विधायकों के नाम भी बताएंगे।

हुड्डा को बीजेपी के हाथों की बताया कठपुतली

चौटाला ने कहा की जब मैं इस मामले में शिकायत दूंगा तब सबके सामने आ जाएगा कि किस विधायक ने कितने पैसे लिए हैं। अभय ने कहा की कुछ विधायकों ने पैसे लेने से मना कर दिया था। इनेलो विधायक अभय चौटाला ने इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा पर भी जमकर निशाना साधा। अभय ने कहा कि हुड्डा भी भाजपा के हाथों की कठपुतली हैं। नगर निकाय चुनाव में हुड्डा ने भाजपा की मदद की। इसलिए कांग्रेस सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ी। अभय ने कहा की अब जिला परिषद् के चुनाव में भी भूपिंदर सिंह हुड्डा भाजपा की मदद करेंगे। उन्होंने कहा कि कल प्रदेश के कई ज़िलों में हुई बरसात के बाद हुए जलभराव ने सरकार की पोल खोल कर रखी दी। सरकार बड़े बड़े दावे करती है, लेकिन तस्वीर सबके सामने है। रोहतक में जलभराव से जो हाल हुआ है, उसका ज़िम्मेदार भूपेंदर सिंह हुड्डा है।

जिला परिषद् का चुनाव भी सिंबल पर लड़ेंगी इनेलो

चौटाला ने कहा कि 3  जुलाई को सिरसा में इनेलो की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में संगठन की मजबूती के लिए फैसले लिए जाएंगे। नए साथियों को बड़ी ज़िम्मेदारी देने को लेकर भी चर्चा होगी। अभय चौटाला ने कहा कि इनेलो ने नगर निकाय चुनाव सिम्बल पर लड़ा है और अब जिला परिषद् का चुनाव भी सिंबल पर लड़ेंगे। वहीं सरपंच और ब्लॉक समिति का चुनाव सिंबल पर नहीं लड़ेंगे।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 

 

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static