पार्टी प्रभारी विवेक बंसल की माताजी के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे भूपेंद्र सिंह हुड्डा

punjabkesari.in Thursday, Jan 13, 2022 - 05:00 PM (IST)

चंडीगढ़ (चन्द्र शेखर धरणी): पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा आज पार्टी प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल की माताजी के निधन पर शोक व्यक्त करने पहुंचे। उन्होंने पुण्यात्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की और शोक संतप्त परिवार को ढांढस बंधाया।  इसके बाद चंडीगढ़ से जारी एक बयान में हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस सरकार के दौरान उन्होंने विकास में हरियाणा को कई मापदंडों में नंबर-1 बनाया। हरियाणा हमारी सरकार के समय प्रति व्यक्ति आय, प्रति व्यक्ति निवेश, रोजगार सृजन, विकास, खुशहाली, किसानों, खिलाड़ियों व बुजुर्गों के सम्मान में अव्वल था। लेकिन जब से बीजेपी सत्ता में आयी है, तब से वह रोज नकारात्मक विकास के नये कीर्तिमान स्थापित कर रही है।

बीजेपी-जेजेपी सरकार की नकारात्मक उपलब्धियों में देश की सबसे ज्यादा महंगाई दर का एक और कीर्तिमान जुड़ गया है। बेरोजगारी, अपराध, नशे, भ्रष्टाचार, प्रदूषण और बदहाली में प्रदेश को नंबर वन बनाने वाली मौजूदा सरकार ने हरियाणा को अब महंगाई में भी नंबर वन बना दिया है। आज हरियाणा की जनता देश में सबसे ज्यादा 6.64% महंगाई दर झेल रही है। हुड्डा ने कहा कि देश की सबसे ज्यादा 34.1% बेरोजगारी दर झेल रही हरियाणा की जनता के लिए देश की उच्चतम महंगाई दर जले पर नमक के समान है। स्पष्ट है कि बीजेपी-जेजेपी सरकार की नीतियां जनता पर कहर बनकर टूट रही हैं। आम आदमी के लिए 2 जून की रोटी जुटाना दूभर हो गया है। पेट्रोल-डीजल पर बेतहाशा टैक्स, सरसों के तेल व खाने-पीने की चीजों के आसमान छूते दामों ने गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों का जीना मुहाल कर दिया है। 

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि प्रदेश का ऐसा कोई तबका नहीं है जो इस सरकार की कुनीतियों और अत्याचारों से अछूता हो। भयावह बेरोजगारी झेल रहे प्रदेश के युवाओं के भविष्य से सरकार लगातार खिलवाड़ कर रही है। एक बार फिर एचएसएससी द्वारा सीईटी के नाम पर कई भर्तियों को रद्द कर दिया गया है। उसने एक बार फिर इन भर्तियों के लिए अप्लाई करने वाले करीब 12 लाख युवाओं के भविष्य को ताक पर रख दिया है। भर्तियां निकालना और उन्हें कैंसिल करना सरकार के लिए रुटीन वर्क हो गया है। ऐसा लग रहा है मानो सरकार युवाओं के साथ भर्ती-भर्ती खेल रही है। 


नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि 5100 रुपये बुढ़ापा पेंशन देने का वादा करके सत्ता मंे आई गठबंधन सरकार लगातार बुजुर्गों की पेंशन पर कैंची चला रही है। अब तक हजारों बुजुर्गों की पेंशन खत्म की जा चुकी है। लगातार उनकी शिकायतें हमें प्राप्त हो रही हैं। बार-बार मांग करने के बावजूद सरकार अपने इस कदम को रोकने को तैयार नहीं है।  उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी वर्कर से लेकर रोडवेज कर्मी तक हर कर्मचारी सरकार से नाराज है। गेस्ट टीचर्स से लेकर बर्खास्त पीटीआई तक सरकार के खिलाफ आंदोलनरत हैं। लेकिन सरकार उनकी मांगों को मानने की बजाय दमनकारी नीतियां अपनाकर उनके खिलाफ मामले दर्ज कर रही है। हुड्डा ने कहा कि प्रदेश की जनता के साथ ऐसा अलोकतांत्रिक व्यवहार उचित नहीं। जनता की समस्याओं को दूर करना सरकार का पहला दायित्व है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static