बीपीटीपी में तैनात हवलदार ने पुलिस लाइन में की आत्महत्या

punjabkesari.in Saturday, May 28, 2022 - 08:51 AM (IST)

फरीदाबाद: बीती रात पुलिस लाइन सेक्टर 30 में बीपीटीपी थाने में तैनात हवलदार तिलक ने पंखे पर फंदे से लटककर अपनी जान दे दी। परिजनों ने इसके लिए किसी को भी दोषी नहीं ठहराया है। उन्होंने बेटे तिलक को ही अपनी आत्महत्या का जिम्मेदार बताया है।  पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि तिलक का जन्म वर्ष 1987 में पलवल जिले के पियाला गांव में हुआ था। तिलक ने वर्ष 2008 में हरियाणा पुलिस में सिपाही के पद पर भर्ती हुए थे। जनवरी 2022 में इनका ट्रांसफर नूंह से फरीदाबाद हुआ था और वह बीपीटीपी थाना में ड्राइवर के तौर पर कार्यरत था। हवलदार तिलक के पिता द्वारा पुलिस थाना सेक्टर 31 में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। जिसमें उन्होंने अपने बयान में बताया कि उनका बेटा काफी समय से मानसिक तनाव में चल रहा था। तिलक अपनी पत्नी तथा बेटे के साथ पुलिस लाइन सेक्टर 30 के सरकारी क्वार्टर में रह रहा था। 26 मई को तिलक की पत्नी ने अपने ससुर को फोन करके बताया कि तिलक काफी परेशान चल रहे हैं और उन्हें वहां आकर अपने बेटे को समझाने के लिए अपने पास बुलाया। 

तिलक के माता-पिता उससे मिलने के लिए क्वार्टर पर आए तथा उसे किसी भी प्रकार से परेशान न होने के लिए काफी देर तक समझाया। शाम के समय तिलक ने उन्हें बताया कि वह अब ठीक है और समझा-बुझाकर अपनी पत्नी तथा बेटे को उनके साथ गांव में भेज दिया। उनके जाने के पश्चात रात को हवलदार तिलक ने बेडशीट का फंदा बनाकर क्वार्टर के पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी। 

तिलक के पिता ने बताया कि इसकी आत्महत्या के पीछे किसी का कोई दोष नहीं है और वह किसी के खिलाफ  कोई भी कानूनी कार्रवाई नहीं करवाना चाहते। बस वह तनाव में चल रहा था हालांकि उसे किस बात का तनाव था यह परिजनों ने पुलिस को नहीं बताया है। वहीं पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने घटना को दुखद बताकर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि यह घटना बहुत ही दुखद है उन्होंने भगवान से तिलक की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की और किसी भी प्रकार की सहायता की आवश्यकता होगी तो वह उसे पूरा करने का पूरा प्रयास करेंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static