वाहनों की तेज रफ्तार लगा रही है जिंदगी पर ब्रेक, नियमों का पालन न करना पड़ रहा भारी

11/13/2019 1:16:30 PM

ढांड (मल्होत्रा) : चंद सैकिंड की तेजी लाखों लोगों की जिंदगी पर ब्रेक लगा देती है। ट्रैफिक नियमों को ताक पर रखकर युवा मौत की सवारी कर रहे हैं। आंकड़े सड़क दुर्घटनाओं की भयावह स्थिति दिखाते हैं। जितनी मौत प्राकृतिक आपदा और बीमारी से नहीं होती उससे कहीं अधिक मौतें सड़क दुर्घटनाओं के कारण हो रही हैं। हालांकि सड़कों पर ट्रैफिक को लेकर संकेत भी अंकित हैं लेकिन तेज रफ्तारी मौत की सवारी बनती जा रही है।

जिस कारण न जाने कितने ही परिवार जीते जी मर रहे हैं। जिला ट्रैफिक पुलिस इंस्पैक्टर जय वीर निरंतर दिन रात पुलिस टीम के साथ वाहन चालकों को यातायात के नियमों का पालन करने के लिए जागरूक कर रहे हैं। दूसरी तरफ पूरे विश्व मे सबसे ज्यादा सड़क दुर्घटनाओं में मरने वालों की संख्या में भारत देश पहले पायदान पर है।

जो बड़ी चिंता का विषय है। तेज रफ्तार के अलावा, शराब व अन्य नशे का सेवन, ट्रैफिक नियमों का पालन न करना और लापरवाही दुर्घटनाओं का बड़ा कारण है। सड़क दुर्घटनाओं का शिकार ऐसे लोग भी हो रहे हैं जो वाहनों को कम स्पीड में चलाते हैं लेकिन दूसरों की तेज स्पीड उनकी जिंदगी पर भी ब्रेक लगा देती है। जो मौत के आंकड़ों को बढ़ा रही है।


Isha

Related News