HTET Results: किसी भी लेवल में 6% से ज्यादा परीक्षार्थी नहीं हुए पास (VIDEO)

3/20/2019 6:24:35 PM

भिवानी(अशोक भारद्वाज): हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी द्वारा 05-06 जनवरी, 2019 को संचालित करवाई गई हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा-2018 के लेवल-1, 2 व 3 का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया है। जोकि बोर्ड की वेबसाईट  एवं बोर्ड मोबाईल एप डाउनलोड करके देखा जा सकता है। इस परीक्षा में लेवल-1 (पीआरटी) में महज 5.71 प्रतिशत, लेवल-2 (टीजीटी) में मात्र 4.78 प्रतिशत एवं लेवल-3 (पीजीटी) में सिर्फ  2.55 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। परीक्षा परिणामों की आधिकारिक घोषणा करते हुए बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह व सचिव राजीव प्रसाद ने प्रेस वार्ता में बताया कि परीक्षा में कुल 3,32,366 अभ्यार्थी प्रविष्ट हुए, जिनमें 100478 पुरूष, 231885 महिलाएं एवं 03 ट्रांसजेंडर शामिल थे।

लेवल-1 (पीआरटी) की परीक्षा में कुल 1,16,795 अभ्यार्थी प्रविष्ट हुए, जिनमें 36318 पुरूषों में से 2935 एवं 80475 महिलाओं में से 3737 उत्तीर्ण हुई। इसके अलावा 02 ट्रांसजेंडर अनुत्तीर्ण रहे। पुरूष अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 8.08 एवं महिलाओं अभ्यार्थियों का 4.64 प्रतिशत रहा तथा ग्रामीण अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 5.39 एवं शहरी अभ्यार्थियों का 6.68 प्रतिशत रहा।

लेवल-2 (टीजीटी) की परीक्षा में कुल 1,24,005 अभ्यार्थी प्रविष्ट हुए, जिनमें 35421 पुरूषों में से 2398 एवं 88583 महिलाओं में से 3528 उत्तीर्ण हुई। इसके अलावा 01 ट्रांसजेंडर अनुत्तीर्ण रहा। पुरूष अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 6.77 एवं महिलाओं अभ्यार्थियों का 3.98 प्रतिशत रहा तथा ग्रामीण अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 4.48 एवं शहरी अभ्यार्थियों का 5.37 प्रतिशत रहा। 

इसी प्रकार लेवल-3 (पीजीटी) की परीक्षा में कुल 91,566 अभ्यार्थी प्रविष्ट हुए, जिनमें 28739 पुरूषों में से 832 एवं 62827 महिलाओं में से 1504 उत्तीर्ण हुई। उन्होंने बताया कि पुरूष अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 2.90 एवं महिलाओं अभ्यार्थियों का 2.39 प्रतिशत रहा तथा ग्रामीण अभ्यार्थियों का पास प्रतिशत 2.19 एवं शहरी अभ्यार्थियों का 3.15 प्रतिशत रहा।

बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने बताया कि लेवल-1, 2 व 3 के जिन अभ्यार्थियों की बॉयोमैट्रिक पहचान प्रक्रिया विफल होने, अनुपस्थित रहने इत्यादि, ऐसे 2447 परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम आर.एल.वी. घोषित किया गया है। ऐसे अभ्यर्थी बोर्ड में आकर अंगूठे सत्यापित करवा सकते हैं। इनके अलावा माननीय पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देशों पर टीजीटी पास वे अभ्यर्थी जिन्होंने पीआरटी की परीक्षा दी थी, ऐसे 168 अभ्यर्थियों का परिणाम रोका गया है जो कि न्यायालय के निर्देश मिलने के बाद ही जारी किया जाएगा। 

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा आज घोषित किए गए एचटेट के परीक्षा परिणामों ने शिक्षा की गुणवत्ता पर सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं। जिस तरह से परीक्षा परिणाम घोषित हुए हें उससे यही लगता है कि जिस कदर परीक्षार्थी फेल हुए हैं वे या तो नकल के भरोसे थे या फिर पूरी तैयारी नहीं की गई थी क्योंकि जिस तरह के प्रबंध नकल रोकने के लिए किए गए थे उनसे परिंदे तक पर नहीं मार सकते थे। पूरी परीक्षा सीसीटीवी कैमरों की लाइव निगरानी में आयोजित की गई थी।


Shivam

Related News