RTI में खुलासा : बीट बॉक्स व नाकों पर विज्ञापनों का पुलिस विभाग के पास कोई रिकार्ड नहीं

punjabkesari.in Monday, Mar 02, 2020 - 08:39 AM (IST)

चंडीगढ़ : हरियाणा सरकार के पास पुलिस के बीट बॉक्स, पी.सी.आर. शैल्टर, बैरिकेट्स, साइन व नोटिस बोर्ड पर निजी कंपनियों के विज्ञापनों का कोई रिकॉर्ड नहीं है। यह खुलासा शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष विजय बंसल की ओर से आर.टी.आई. के तहत मांगी जानकारी के जवाब में हुआ है। उन्होंने इस मामले में घोटाले की आशंका जताते हुए गृह मंत्री को पत्र लिख जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि नियमानुसार सरकारी संपत्ति पर निजी कंपनी का विज्ञापन नहीं हो सकता है।

पुलिस प्रशासन ने स्पष्ट किया है कि किसी फर्म या कंपनी से यह नहीं रखवाए जाते हैं। सरकार की मानें तो न ऐसे विज्ञापनों के लिए कोई टैंडर होता है, न कोई प्रक्रिया है, न ही आय होती है। उनका कहना है कि जब सरकारी खर्चे से ही सामान लिया जाता है तो किस अधिकार, अफसर या व्यक्ति की शह पर निजी कंपनियों का विज्ञापन प्रदर्शित किया जाता है। 

यह पूछा था आर.टी.आई. में
हरियाणा पुलिस के डी.जी.पी. से आर.टी.आई. के तहत बंसल ने पूछा था कि बीट बॉक्स, पी.सी.आर. शैल्टर, बैरिकेट्स, साइन व नोटिस बोर्ड्स पर विभिन्न कंपनियों के विज्ञापनों को लगाने के लिए क्या प्रक्रिया है, प्रति वर्ष कितनी आय होती है, कब-कब टैंडर निकाला गया और कंपनियों को किस आधार पर अलॉट किया गया। विज्ञापनों से आय/एकत्रित राशि को कहां और किस योजना में खर्च किया जाता है। जवाब में बताया गया कि सरकारी खर्च से ही सामान खरीदा जाता है और किसी भी फर्म से बीट बॉक्स व बैरिकेट्स नहीं रखवाए जाते।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static